बंद कराई अवैध 16 कोयला खदानें, टेमरू, कोटमी और गोलई में अब भी चल रही

|

Published: 11 Mar 2018, 11:08 AM IST

पत्रिका ने घोड़ाडोंगरी और शाहपुर ब्लाक में अवैध रूप से संचालित कोयला खदानों की ओर प्रशासन का ध्यान आकर्षित कराया था।

सारनी. वेकोलि की बंद खदान में हुए हादसे के बाद पत्रिका ने घोड़ाडोंगरी और शाहपुर ब्लाक में अवैध रूप से संचालित कोयला खदानों की ओर प्रशासन का ध्यान आकर्षित कराया था। प्रमुखता से खबर प्रकाशित कर बताया था कि प्रशासन की अनदेखी से बेखौफ अवैध खदानें चल रही है। ग्राम डुल्हारा में संचालित अवैध खदान का 11 सेकंड का वीडियो वायरल कर बताया था कि जब डेढ़ मीटर लंबे, चौड़े और गहरी खदान में 4 जाने जा सकती है तो 25 से 30 मीटर लंबी सुरंगनुमा खदान में हादसा होने पर कितनी जाने जा सकती है। पत्रिका में लगातार खबर छपने पर खनिज निरीक्षक अशोक नागले ने आश्वस्त किया था कि रेवेन्यू, फारेस्ट और पुलिस की मदद से समय रहते अवैध खदानों पर बड़ी कार्रवाई की जाएगी। 5 और 7 मार्च खनिज विभाग ने राजस्व, पुलिस और वन विभाग की मदद से टेमरू, दौड़ी, डुल्हारा गांव से 34 टन कोयला जप्त कर डुल्हारा की 12 अवैध खदानें और दौड़ी की 4 खदानें बंद की। इस कार्रवाई से कोल माफियाओं में हडक़ंप मच गया। जबकि खनिज विभाग भी अवगत है कि टेमरू, कोटमी और गोलई में अभी भी अवैध खदानें संचालित हो रही है। इसके अलावा कोयले का काला खेल तवा काटी, दौड़ी, मरदानपुर, और तवा संगम में भी चल रहा है।

16 टन अवैध कोयला जब्त
पुलिस, खनिज एवं राजस्व अमले द्वारा तहसील शाहपुर एवं घोड़ाडोंगरी क्षेत्र में कार्रवाई करते हुए 31 टन अवैध कोयला जब्त किया गया है। शाहपुर तहसील के ग्राम दौड़ी में शासकीय भूमि में अज्ञात व्यक्तियों द्वारा अवैध कोयले की खदानें बनाई जा रही थी, जिसमें चार खदानों के गड्ढे पाए गए, जिसे बंद किया गया एवं मौके से लावारिस कोयला 16 टन जब्त किया गया। इसी प्रकार घोड़ाडोंगरी में १५ टन कोयला जब्त किया गया।

अवैध उत्खनन में जुर्माना अधिरोपित
कलेक्टर शशांक मिश्र ने अवैध उत्खनन एवं परिवहन के दो मामलों में कार्रवाई करते हुए दोषियों पर बीस हजार रूपए की शास्ति अधिरोपित की है। बताया गया कि बगडोना घोड़ाडोंगरी निवासी रणवीर पिता सच्चिदानंद सिन्हा पर दस हजार एवं ग्राम काटकुभ जिला अमरावती निवासी मोहन पिता दशरथ मालवी पर दस हजार अस्सी रूपए का जुर्माना अधिरोपित की है। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मामले की जांच भी की जा रही है।

इनका कहना
दो जेसीबी से डुल्हारा की 12 और दौड़ी की 4 खदानें बंद कराई गई है। टेमरू, दौड़ी और डुल्हारा से 34 टन कोयला जप्त किया है। टेमरू, कोटमी और गोलई में अवैध खदानों की जानकारी है। जल्द ही यहां भी कार्रवाई की जाएगी।
अशोक नागले, खनिज निरीक्षक