मात्र 30 मिनट में इस कंपनी ने गंवाए 12500 करोड़ रुपए, क्या रही वजह

|

Updated: 16 Oct 2020, 10:29 AM IST

  • तिमाही नतीजों के आने के बाद एचसीएल के शेयरों में 4.40 फीसदी से ज्यादा की गिरावट
  • कंपनी के मार्केट कैप में मात्र30 मिनट के कारोबारी सत्र में 12,500 करोड़ रुपए का नुकसान
  • शुक्रवार की गिरावट के बाद शेयर बाजार में देखने को मिल रही है रिकवरी, सेंसेक्स में तेजी

नई दिल्ली। देश की बड़ी आईटी कंपनियों में से एक एचसीएल ( HCL Technologies ) और उसके शेयरधारकों को बड़ा झटका लगा है। मात्र 30 मिनट के कारोबार में कंपनी के शेयर में 4 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आ गई। जिसकी वजह से कंपनी को 12,500 करोड़ रुपए का नुकसान हो गया। वहीं आम निवेशकों जिन्होंने कंपनी के शेयरों में रुपया लगाया है उन्हें प्रति शेयर पर 38 रुपए का नुकसान देखने को मिल रहा है। खास बात तो ये है कि यह गिरावट एचसीएल के तिमाही नतीजे ( HCL Q2 Results 2020 ) आने के बाद देखने को मिली है। आपको बता दें कि गुरुवार की बड़ी गिरावट के बाद आज शेयर बाजार में रिकवरी देखने को मिल रही है।

एचसीएल के शेयरों में गिरावट
आज देश की बड़ी आईटी कंपनियों में से एक एचसीएल टेक्नोलॉजी के शेयरों में जबरदस्त गिरावट देखने को मिल रही है। कंपनी का शेयर 9 बजकर 45 मिनट पर 4.41 फीसदी की गिरावट के साथ 821.55 रुपए पर कारोबार कर रहा था। जबकि कंपनी का शेयर आज मामूली बढ़त के साथ 865 रुपए पर खुला था। उसके बाद से कंपनी के शेयरों में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है। आपको बता दें कि कल कंपनी के शेयर 859.45 रुपए पर बंद हुआ था।

यह भी पढ़ेंः- न्यूयॉर्क से लेकर टोक्यो तक रिलायंस और एलआईसी जैसी कंपनियों का बजेगा डंका, मोदी सरकार उठाने जा रही है यह कदम

कंपनी के मार्केट कैप में बड़ी गिरावट
वहीं दूसरी ओर कंपनी के मार्केट कैप में बड़ी गिरावट देखने को मिली है। जब बाजार खुला तो कंपनी का शेयर प्राइस 865 रुपए था, जिसके हिसाब से कंपनी का मार्केट कैप 2,35,711.56 करोड़ रुपए था। वहीं 9 बजकर 45 मिनट पर कंपनी के शेयरों में 4.41 फीसदी की गिरावट देखने को मिली और कंपनी का मार्केट कैप कम होकर 2,23,226.09 करोड़ रुपए रह गया। यानी कंपनी को मात्र आधे घंटे में 12,500 करोड़ रुपए रुपए का नुकसान उठाना पड़ा।

हर मिनट में कंपनी को 414 करोड़ रुपए का नुकसान
कंपनी के तिमाही नतीजों के आने से पहले कंपनी को शेयर बाजार में बड़ा नुकसान हुआ है। अगर बाजार खुलने के आधे घंटे का ही हिसाब लगाया जाएगा तो 12,500 करोड़ रुपए का नुकसान बन रहा है। यानी इस दौरान कंपनी को प्रत्येक मिनट में 414 करोड़ रुपाए का नुकसान उठाना पड़ा है। यानी कंपनी के मार्केट कैप में बड़ी गिरावट देखने को मिली है।

यह भी पढ़ेंः- भारत का चीन को एक और झटका, एयर कंडीशनर के इंपोर्ट पर पाबंदी

आम निवेशकों को भी लाखों का नुकसान
अगर बात आम निवेशकों की करें तो एचसीएल के शेयरधारकों भी कम नुकसान नहीं हुआ है। अगर आधे घंटे के कारोबार को ही आधार मानकर चलें तो शेयरधारकों को 38 रुपए का नुकसान हो चुका था। यानी एक लाख शेयर रखने वाले निवेशकों को 38 लाख रुपए का नुकसान हुआ है। जबकि 10 हजार शेयर रखने वाले 3.8 लाख रुपए का नुकसान उठाना पड़ा है। वहीं एक हजार शेयर रखने वाले 38 हजार रुपए का नुकसान हुआ है।

एचसीएल के तिमाही नतीजे जारी
एचसीएल टेक के दूसरी तिमाही के नतीजे जारी हो गए हैं। दूसरी तिमाही में एचसीएल टेक का मुनाफा 3,142 करोड़ रुपए देखने को मिला है। जबकि कंपनी के मुनाफे का अनुमान 3046 करोड़ रुपए लगाया जा रहा था। जबकि तिमाही नतीजों में कंपनी का दूसरी तिमाही में मुनाफा अनुमान से बेहतर देखने को मिला है।

बाजार में रिकवरी
वहीं दूसरी ओर आज शेयर बाजार में रिकवरी देखने को मिल रही है। बांबे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक 362.96 अंकों की बढ़त के साथ 40091.37 अंकों पर कारोबार करता हुआ दिखाई दिया। तबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी 50 96.55 अंकों की बढ़त के साथ 11776.90 अंकों पर कारोबार करता हुआ दिखाई दे रहा है। जानकारों की मानें तो ग्लोबल बाजारों में रिकवरी कारण भारतीय शेयर बाजार में तेजी देखने को मिल रही है।