विदेशी निवेशकों ने फरवरी में किया 23,600 करोड़ रुपए से ज्यादा का शुद्घ निवेश

|

Updated: 28 Feb 2021, 03:18 PM IST

एफपीआई ने 25700 करोड़ रुपए से ज्यादा निवेश किया, बांड बाजार से 2,124 करोड़ रुपए की निकासी भी की

नई दिल्ली। साल के दूसरे महीने में विदेशी पोर्टफोलियो इंवेस्टर्स ने भारतीय शेयर बाजार और बांड बाजार में जबरदस्त निवेश किया है। जानकारों की मानें तो आम बजट को लेकर सकारात्मक धारणा तथा कंपनियों के तीसरी तिमाही के नतीजे अच्छे रहने के बीच एफपीआई ने 25700 करोड़ रुपए से ज्यादा निवेश किया है। आइए आपको भी बताते हैं कि विदेशी निवेशकों ने शेयर बाजार और बांड बाजार में कितना निवेश किया है।

यह भी पढ़ेंः- जीडीपी के आंकड़ों और विदेशी बाजारों से तय होगी शेयर बाजार की चाल

विदेशी निवेशकों ने किया इतना निवेश
विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की ओर से जनवरी के मुकाबले फरवरी में ज्यादा निवेश किया है। आंकड़ों की मानें तो भारतीय शेयर बाजारों में शुद्ध रूप से 23,663 करोड़ रुपए का निवेश हुआ है। डिपॉजिटरी के आंकड़ों के अनुसार 1-26 फरवरी के दौरान एफपीआई ने शेयरों में शुद्ध रूप से 25,787 करोड़ रुपए डाले, लेकिन उन्होंने ऋण या बांड बाजार से 2,124 करोड़ रुपए की निकासी भी की है। इस तरह भारतीय बाजार में उनका शुद्ध निवेश 23,663 करोड़ रुपए रहा।

यह भी पढ़ेंः- दुनिया के सबसे अमीर देश का प्रत्येक नागरिक है 53 लाख रुपए का कर्जदार

जनवरी के मुकाबले ज्यादा
अगर जनवरी के मुकाबले में बात करें तो फरवरी में ज्यादा निवेश किया है। पिछले महीने एफपीआई ने भारतीय बाजारों में शुद्ध रूप से 14,649 करोड़ रुपए डाले थे। जानकारों माने तो इस महीने एफपीआई के प्रवाह में मुख्य वजह आम बजट और कंपनियों के अच्छे तिमाही नतीजे रहे। वहीं दूसरी ओर अमरीका में 10 साल के बांड पर ज्यादा मुनाफा मिला, जिसकी वजह से एफपीआई का प्रवाह सुस्त पड़ा है। पूंजी प्रवाह में अमरीका के 10 साल के बांड पर प्राप्ति का महत्वपूर्ण योगदान है। मुद्रास्फीति को लेकर बांड पर प्राप्ति बढ़ रही है। इससे पूंजी का प्रवाह सुस्त पड़ेगा।