बीते वित्त में 24 साल के बाद शेयर बाजार में दिखी सबसे बड़ी तेजी, सेंसेक्स में 68 फीसदी का उछाल

|

Updated: 02 Apr 2021, 12:54 PM IST

वित्त वर्ष 2020 में शेयर बाजार में जबरदस्त तेजी देखने को मिली। सेंसेक्स के 30 प्रमुख शेयरों में 179 फीसदी तक की तेजी देखने को मिली। वहीं निफ्टी 50 में 51 फीसदी का उछाल देखने को मिला।

नई दिल्ली। भारतीय शेयर बाजार में वित्त वर्ष 1997 के बाद वित्त वर्ष 2021 में सबसे बड़ी तेजी देखने को मिली है। बीएसई सेंसेक्स में 20,040.66 अंक और निफ्टी 50 में 6,092.95 अंकों का उछाल देखने को मिला है। खास बात तो ये है कि इस वित्त वर्ष में कुछेक स्टॉक्स को छोड़ दिया जाए तो सभी में रिटर्न देखने को मिला है। वहीं सभी इंडेक्स में तेजी देखने को मिली है। शेयर बाजार के जानकार रजनीश खोसला बताते हैं कि उन्होंने 1992 और 1997 के बाद शेयर बाजार में सबसे बड़ी तेजी देखी है। उन्होंने बताया कि महामारी के बाद जब शेयर बाजार अपने ऑलटाइम हाइ के रिकॉर्ड को जरूर तोड़ता है। उसके बाद बाजार में कंसोलिडेशन का दौर देखने को मिलता है। अप्रैल के महीने में वहीं देखने को मिलेगा। आइए आपको भी बताते हैं कि 2020 वित्त वर्ष में बाजार का परफॉर्मेंस कैसा देखने को मिला है।

सेंसेक्स में 68 फीसदी का उछाल
वित्त वर्ष 2021 में बीएसई सेंसेक्स 68.01 प्रतिशत उछला। सभी 30 शेयरों में साल-दर-साल आधार पर सकारात्मक रिटर्न देखने को मिला, जो जो 5-179 प्रतिशत के बीच था। महिंद्रा एंड महिंद्रा (178.98 प्रतिशत तक), इंडसइंड बैंक (171.68 प्रतिशत), बजाज फाइनेंस (132.35 प्रतिशत), एचसीएल टेक्नोलॉजीज (125.17 प्रतिशत), इंफोसिस (113.61 प्रतिशत तक), बजाज फिनसर्व (110.64 प्रतिशत) और अल्ट्राटेक सीमेंट (107.03 प्रतिशत) देखने को मिली।

यह भी पढ़ेंः- Home And Consumer Loan लेने वालों के लिए बड़ी खुशखबरी, चुकाना होगा कम ब्याज

निफ्टी में 51 फीसदी की तेजी
वित्त वर्ष 2021 में निफ्टी 51 प्रतिशत बढ़ा। इस दौरान केवल एक शेयर ने निगेटिव रिटर्न दिया। सबसे ज्यादा तेजी तेजी टाटा मोटर्स 324.77 प्रतिशत और हिंडाल्को इंडस्ट्रीज, जेएसडब्ल्यू स्टील, ग्रासिम इंडस्ट्रीज और टाटा स्टील सहित चार अन्य स्टॉक 200 प्रतिशत से अधिक बढ़े। अडानी पोट्र्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, इंडसइंड बैंक, बजाज फाइनेंस, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स, इंफोसिस, बजाज फिनसर्व, विप्रो और अल्ट्राटेक सीमेंट सहित दस शेयरों में प्रत्येक में 100 प्रतिशत से अधिक की बढ़ोतरी हुई। पिछले वित्त वर्ष के दौरान निफ्टी बैंक इंडेक्स 74 प्रतिशत उछला और सभी सूचकांक स्टॉक हरे रंग में समाप्त हुए। इंडसइंड बैंक, आईडीएफसी फस्र्ट बैंक और एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक ने प्रत्येक में 100फीसदी से ज्यादा की बढ़ोतरी देखने को मिली।

मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में उछाल
बीएसई मिडकैप इंडेक्स पिछले वित्त वर्ष में 90 प्रतिशत से अधिक बढ़ा। अदानी एंटरप्राइजेज, अदानी ग्रीन एनर्जी, अदानी ट्रांसमिशन, जिंदल स्टील एंड पावर, चोलामंडलम इनवेस्टमेंट, स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया, टाटा पावर कंपनी और अदानी पावर 206-649 प्रतिशत की बढ़त के साथ शीर्ष पर रहे। साथ ही 26 मिडकैप शेयरों में 100-197 प्रतिशत की वृद्धि हुई। टानला प्लेटफॉर्म, इंटेलिजेंट डिजाइन एरिना, सुबेक्स और अदानी टोटल गैस जैसे शेयरों में तेजी के कारण वित्त वर्ष 2021 में बीएसई स्मॉलकैप इंडेक्स में 115 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई। वहीं बीएसई सेक्टोरल इंडेक्स की बात करें तो एसएंडपी बीएसई मेटल इंडेक्स सबसे अधिक 151 प्रतिशत बढ़ा। अन्य सूचकांक स्टॉक 69 से 318 प्रतिशत के बीच बढ़े।

यह भी पढ़ेंः- HDFC FD Rates : एचडीएफसी के ग्राहकों के लिए बड़ी खबर, एफडी पर मिलेगा अब इतना ब्याज

ऑटो और आईट कंपनियों में तेजी
सेंसेक्स की रैली में योगदान देने वाले अन्य प्रमुख क्षेत्रों में सकारात्मक रिटर्न देने वाले सभी शेयरों के साथ एसएंडपी बीएसई ऑटो (107 प्रतिशत) रहा। महिंद्रा एंड महिंद्रा, अशोक लीलैंड और बालकृष्ण इंडस्ट्रीज के बाद टाटा मोटर्स (325 प्रतिशत) और मदरसन सुमी सिस्टम्स (230 प्रतिशत) सबसे अधिक लाभ में रहे, जिनमें 113-179 प्रतिशत के बीच वृद्घि देखने को मिली। टानला प्लेटफॉर्म, इंटेलिजेंट डिज़ाइन एरिना, सुबेक्स, रैमको सिस्टम, मास्टेक, 3 आई इन्फोटेक और केपीआईटी टेक्नोलॉजीज की वजह से एसएंडपी बीएसई सूचना प्रौद्योगिकी सूचकांक 106 प्रतिशत से अधिक बड़ा। वित्त वर्ष 2021 के दौरान इन स्टॉक्स में 400-1583 फीसदी की तेजी देखने को मिल। एसएंडपी बीएसई रियल्टी इंडेक्स 97 प्रतिशत उछला। सोभा, महिंद्रा लाइफस्पेस डेवलपर्स, गोदरेज प्रॉपर्टीज, ब्रिगेड एंटरप्राइजेज और डीएलएफ सबसे अधिक लाभ पाने वाले 108.822 प्रतिशत थे।