बंधन बैंक की शानदार स्टाॅक लिस्टिंग, 33 फीसदी प्रीमियम पर 499 रुपए तक पहुंचा शेयर

|

Published: 27 Mar 2018, 12:26 PM IST

एनएसर्इ में जहां बंधन बैंक 33 फीसदी प्रीमियम के साथ 499 रुपए पर लिस्ट हुआ आैर बीएसर्इ में 29.33 फीसदी प्रीमियम के साथ 485 रुपए में लिस्ट हुआ

बंधन बैंक की शानदार स्टाॅक लिस्टिंग, 33 फीसदी प्रीमियम पर 499 रुपए तक पहुंचा शेयर

नई दिल्ली। देश में लगातार प्राइवेट बैंकों की भरमार हो रही है। स्टाॅक मार्केट में लगातार कोर्इ नया बैंक लिस्ट हो रहा है। अब नया नाम सामने आया है बंधन बैंक। जिसकी स्टॉक मार्केट में पहले ही दिन शानदार लिस्टिंग हुई। नेशनल स्टाॅक एक्सचेंज में जहां बंधन बैंक33 फीसदी प्रीमियम के साथ 499 रुपए पर लिस्ट हुआ। दूसरी आेर बांबे स्टाॅक एक्सचेंज बंधक बैंक 29.33 फीसदी प्रीमियम के साथ 485 रुपए पर लिस्ट हुआ। शुरुआती कारोबार की बात करें तो बीएसई पर बंधन बैंका का स्टॉक 494.80 के हाई लेवल पर पहुंच गया। बंधन बैंक ने मार्केट से करीब 4473 करोड़ रुपए जुटाए।

निवेशकों से मिला था बेहतर रिस्पांस
बंधन बैंक का आईपीओ 15 मार्च को खुला था और 19 मार्च 2018 को बंद हुआ था। जिसमें बैंक को निवेशकों का बेहतर रिस्पांस देखने को मिला था। अगर बात आंकड़ों की करें तो बैंक का आर्इपीआे 14.6 गुना सब्सक्राइब हुआ, जबकि क्यूआईपी हिस्सा 38.67 गुना भरा गया। वहीं एचएनआई हिस्से को 13.89 गुना बिड मिली थी। बंधन बैंक ने आईपीओ के लिए 370-375 रुपए का प्राइस बैंड तय किया था। वहीं बंधन बैंक ने 65 एंकर इन्वेस्टर्स से 1,342 करोड़ रुपए कमाए थे। बंधन बैंक के आईपीओ में 10 फीसदी हिस्सा बिका था, जिसमें 97,663,910 नए इक्विटी शेयर भी थे। वहीं अंतर्राष्ट्रीय वित्त निगम 1,40,50,780 शेयर और आईएफसी एफआईजी इनवेस्टमेंट कंपनी 75,65,804 शेयर तक की बिक्री ऑफर फॉर सेल के जरिए हुर्इ। अब आईपीओ के बाद बंधन बैंक में प्रोमोटर होल्डिंग 89 फीसदी से घटकर 82 फीसदी होगी।

3 साल पहले मिला था बैंकिंग लाइसेंस
बंधन बैंक माइक्रो फाइनेंस कंपनी के रूप में यह शुरू हुआ था, जिसे करीब 3 साल पहले बैंकिंग लाइसेंस मिला है। कंपनी का मार्केट कैप 45000 करोड़ रुपए है। इस फाइनेंशियल में कंपनी को 1500 करोड़ प्रॉफिट की उम्मीद है। पिछले 2 फाइनेंशियल र्इयर से बैंक को अच्छा मुनाफा भी हुआ है। 31 दिसंबर 2017 तक बंधन बैंक के 887 ब्रांच हैं। इसके अलावा देश भर में बैंक के 430 एटीएम हैं और उसके 21.3 करोड़ कस्टमर्स हैं।