बजट के बाद शेयर बाजार में जोरदार रिकवरी, मिडकैप इंडेक्स में 3 फीसदी की साप्ताहिक तेजी

|

Updated: 09 Feb 2020, 01:47 PM IST

आम बजट 2020-21 पेश होने के तत्काल बाद बाजार की प्रतिक्रिया निराशाजनक रही, जिसके कारण शनिवार को विशेष सत्र के दौरान सेंसेक्स और निफ्टी में भारी गिरावट आई

नई दिल्ली।बजट के बाद इस सप्ताह शेयर बाजार में जबरदस्त रिकवरी आई, जिसके कारण प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी में पिछले सप्ताह के मुकाबले एक फीसदी से ज्यादा की बढ़त दर्ज की गई।

मिडकैप इंडेक्स में 3 फीसदी की तेजी

पिछले सप्ताह को संसद में आम बजट 2020-21 पेश होने के तत्काल बाद बाजार की प्रतिक्रिया निराशाजनक रही, जिसके कारण शनिवार को विशेष सत्र के दौरान सेंसेक्स और निफ्टी में भारी गिरावट आई, लेकिन घरेलू और विदेशी कारकों से इस सप्ताह लगातार चार सत्रों की तेजी के कारण सेंसेक्स और निफ्टी साप्ताहिक बढ़त के साथ बंद हुए। जबकि बीएसई मिड-कैप सूचकांक में तकरीबन तीन फीसदी की जोरदार साप्ताहिक तेजी दर्ज की गई।

सेंसेक्स में 418 अंको की तेजी

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित मुख्य संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सप्ताह के मुकाबले 418.36 अंकों यानी 1.03 फीसदी की बढ़त के साथ 41,141.85 पर बंद हुए। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के 50 शेयरों पर आधारित मुख्य संवेदी सूचकांक निफ्टी भी पिछले सप्ताह के मुकाबले 136.25 अंकों यानी 1.14 फीसदी की तेजी के साथ 12,098.35 पर ठहरा। बीएसई मिड-कैप सूचकांक पिछले सप्ताह के मुकाबले 442.70 अंकों यानी 2.86 फीसदी की तेजी के साथ 15,904.71 पर बंद हुआ और स्मॉल कैप सूचकांक 172.37 अंकों यानी 1.18 फीसदी की बढ़त के साथ 14,840.33 पर बंद हुआ।

ऐसा रहा पूरे हफ्ते का हाल

गिरावट पर लिवाली बढ़ने से घरेलू शेयर बाजार में सप्ताह की शुरुआत तेजी के साथ हुई और सेंसेक्स शनिवार के विशेष सत्र की क्लोंजिंग के मुकाबले 136.78 अंकों यानी 0.34 फीसदी की तेजी के साथ 39,872.31 पर रूका जबकि निफ्टी 46.05 अंक यानी 0.39 फीसदी चढ़कर 11,707.90 पर ठहरा। अगले सत्र में मंगलवार को उत्साहवर्धक घरेलू और विदेशी संकेतों से शेयर बाजार में दो फीसदी से ज्यादा की जोरदार तेजी तेजी आई। सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 917.07 अंकों यानी 2.30 फीसदी की तेजी के साथ 40,789.38 पर बंद हुआ और निफ्टी भी 271.75 अंक यानी 2.32 फीसदी चढ़कर 11,979.65 पर विराम लिया।

ये रही तेजी की वजह

देश के विनिर्माण क्षेत्र में तेजी के संकेत मिलने से बाजार को सपोर्ट मिला। जनवरी में आईएचएस मार्किट इंडिया मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई (परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स) बीते महीने के 52.7 से बढ़कर 55.3 फीसदी हो गया जोकि आठ साल का सबसे ऊंचा स्तर है। घरेलू शेयर बाजार में तेजी का यह सिलसिला बुधवार को भी जारी रहा जब सेंसेक्स पिछले सत्र से 353.28 अंकों यानी 0.87 फीसदी की तेजी के साथ 41,142.66 पर बंद हुआ और निफ्टी 110.60 अंकों यानी 0.94 फीसदी की तेजी के साथ 12,090.25 पर रूका।

आखिरी सत्र में तेजी पर लगा ब्रेक

सप्ताह के चौथे सत्र में गुरुवार को सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 163.37 अंकों यानी 0.40 फीसदी बढ़त के साथ 41,306.03 पर बंद हुआ और निफ्टी 44.50 अंक यानी 0.37 फीसदी चढ़कर 12,133.065 पर ठहरा। हालांकि सप्ताह के आखिरी सत्र में शुक्रवार को लगातार चार सत्रों की तेजी पर ब्रेक लग गया और सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 164.18 अंकों यानी 0.40 फीसदी की गिरावट के साथ 41,141.85 पर बंद हुआ और निफ्टी भी 51.55 अंकों यानी 0.42 फीसदी फिसलकर 12,086.40 पर ठहरा।