15 अगस्त तक मंडला स्टेशन से दौड़ सकती है पैसेंजर ट्रेन

|

Published: 02 Aug 2021, 11:52 AM IST

डीआरएम ने दिया आश्वासन, डीसीएम ने किया निरीक्षण

मंडला. नैनपुर. कोविड-19 के नाम से पैसेंजर ट्रेन का संचालन बंद किए करीब डेढ़ वर्ष होने जा रहे हैं। महानगरों को आने जाने एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन प्रारंभ कर दिया गया है। लेकिन लोकल ट्रेन चालू नहीं हुई हैं। पैसेंजर ट्रेन प्रारंभ न होने से यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। नैनपुर से जबलपुर व जबलपुर से नैनपुर के लिए आम यात्रियों, व्यापारियों, मजदूरों, अधिक्ताओं, छात्र-छात्राओं को ट्रेन के संचालन का इंतजार है। एक्सप्रेस ट्रेनों का किराया इतना ज्यादा है कि आमजनों को सफर करना महंगा साबित हो रहा है। हालांकि अब जल्द ही अच्छी खबर यात्रियों को मिलने वाली है। 31 जुलाई को रेलवे सलाहकार बोर्ड की ऑनलाईन बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें एक अगस्त को मंडला फोर्ट का डीसीएम ने निरीक्षण करने का आश्वासन दिया था। रविवार को डीसीएम ट्रेन में मंडला पहुंचे और रेलवे अधिकारियों से जानकारी ली।


जानकारी के अनुसार बालाघाट सांसद डॉ ढालसिंह बिसेन के द्वारा बन्द पड़ी ब्रांड गेज यात्री लोकल ट्रेन चलाने प्रस्ताव रेल्वे वोर्ड को भेजा है। साथ ही रेलवे सलाहकार सदस्यों ने रेलवे बोर्ड की 31 जुलाई को ऑनलाईन बैठक में पैसेंजर ट्रेन चलाने अपनी बात रखी है जिसमें डीआरएम ने आश्वस्त किया है कि आगामी 15 अगस्त तक मंडला से तिरोड़ी, बालाघाट से जबलपुर लोकल पैसेंजर ट्रेन का प्रारंभ हो जाएगी। करीब दो वर्षों से बंद पड़ी रेल यात्रा प्रारंभ होने की संभावना बनती नजर आ रही है। इसके अलावा राज्य सभा सांसद संपत्तिया उईके ने भी गत दिनों केंद्रीय रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव से मुलाकात की और कोरोना काल से बंद पड़ी नैनपुर जबलपुर ट्रेनों को चलाने बात रखी। साथ ही मंडला से नैनपुर, नैनपुर से बालाघाट की यात्री रेल सीआरएस होने के बाद भी प्रारंभ नहीं की गई है जिसे भी चलाने कहा गया। जिस पर रेल मंत्री के द्वारा आश्वासन दिया गया है।

पैसेंजर गाडिय़ों का बेसब्री से इंतजार

जबलपुर नैनपुर गोंदिया रेल पथ पर दो स्पेशल ट्रेनों के संचालन के बाद पैसेंजर यात्री गाडिय़ों के परिचालन का इंतजार क्षेत्र के लोगो को है। वर्तमान में चलाई जा रही दो गाडिय़ों का किराया सामान्य से बहुत अधिक है। साथ ही इनका स्टॉपेज छोटे-छोटे रेल स्टेशनों पर नहीं होने से यात्रियों को खासी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। जबकि रोज नैनपुर से जबलपुर और जबलपुर से गोंदिया की ओर यात्रा करने वाले छोटे तबके के यात्रियों की बड़ी संख्या है। जिनके लिए पैसेंजर यात्री गाडिय़ों का संचालन किया जाना बहुत जरूरी हो गया है सभी को बेसब्री से इंतजार है।