पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम, आरक्षण व दलित बहन-बेटियों के उत्पीड़न पर मायावती ने दिया बड़ा बयान

|

Published: 14 Jun 2020, 07:27 PM IST

देश में बढ़ती पेट्रोल व डीजल (Petrol Diesel) की कीमतों, आरक्षण व दलित बहन-बेटियों पर उत्पीड़न को लेकर बहुजन समाज पार्टी (Bahujan samaj party) प्रमुख मायावती (Mayawati) ने एक के एक बाद तीन ट्वीट कर सरकार को घेरा है।

Mayawati over rising petrol prices reservation and molestation

लखनऊ. देश में बढ़ती पेट्रोल व डीजल की कीमतों, आरक्षण व दलित बहन-बेटियों पर उत्पीड़न को लेकर बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने एक के एक बाद तीन ट्वीट कर सरकार को घेरा है। उन्होंने कहा कि विश्व तेल बाजार में मंदी व इसके दामों में जबर्दस्त कमी के बावजूद अपने भारत देश में पेट्रोल व डीजल की कीमतों में लगातार की जा रही। वृद्धि कोरोना महामारी व लाॅकडाउन से पीड़ित करोड़ों गरीब व बेरोजगार जनता का आर्थिक शोषण व उनके प्रति अन्याय नहीं तो और क्या है? ऐसा क्यों?

ये भी पढ़ें- फिल्म 'एमएस धोनी' के प्रमोशन के लिए लखनऊ आए थे सुशांत सिंह राजपूत, अखिलेश से की थी मुलाकात

बसपा की मांग मानने की देरी क्यों-

वहीं दूसरे ट्वीट में बसपा सुप्रीमों ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के इस कथन पर कि आरक्षण मूलभूत अधिकार नहीं है, बीजेपी व इनके एनडीए पार्टनरों का कहना है कि आरक्षण मूलभूत नहीं किन्तु संवैधानिक अधिकार है जिसके प्रति वे वचनबद्ध हैं, तो फिर आरक्षण को संविधान की 9वीं अनुसूची में शामिल करने की बीएसपी की मांग मानने में देरी क्यों?

ये भी पढ़ें- 3 वर्ष पहले किसान आत्महत्या करने को मजबूर था, अब स्थिति ऐसी नहीं है, किसान संतुष्ट हैं- सीएम

दलित बहन-बेटी के उत्पीड़ने के मामले की जितनी भी निन्दा हो वह कम-

अपने तीसरे ट्वीट में मायावती ने कहा कि यूपी में चाहे आजमगढ़, कानपुर या अन्य किसी भी जिले में खासकर दलित बहन-बेटी के साथ हुये उत्पीड़न का मामला हो या फिर अन्य किसी भी जाति व धर्म की बहन-बेटी के साथ हुए उत्पीड़न का मामला हो, उसकी जितनी भी निन्दा की जाये, वह कम है।