देश में ऑक्सीजन की सप्लाई के लिए 24 कंटेनर्स इंपोर्ट करेगा टाटा ग्रुप

|

Updated: 21 Apr 2021, 11:53 AM IST

टाटा ग्रुप देश में ऑक्सीजन की सप्लाई के 24 क्राइओगेनिक कंटेनर्स को इंपोर्ट करने जा रहा है। इस कंटेनर्स के माध्यम से पूरे देश में ऑक्सीन की सप्लाई की जाएगी।

नई दिल्ली। जब भी देश में मुसीबत की घड़ी आती है तो टाटा ग्रुप मदद के लिए सामने आ ही जाता है। पिछले साल भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला था और अब जब देश में कोरोना का दूसरा वेव आ गया है तो अब बड़ा फैसला ले लिया है। वास्तव में टाटा ग्रुप देश में ऑक्सीजन की सप्लाई के 24 क्राइओगेनिक कंटेनर्स को इंपोर्ट करने जा रहा है। इस कंटेनर्स के माध्यम से पूरे देश में ऑक्सीन की सप्लाई की जाएगी। इस बात की जानकारी टाटा ग्रुप की की ओर से सोशल मीडिया के द्वारा दी गई है। आपको बता दें कि कुछ दिन पहले टाटा ग्रुप की टाटा स्टील ईकाई ने ऑक्सीन सप्लाई करने की बात कही थी।

टाटा ग्रुप का बयान
टाटा ग्रुप की ओर से सोशल मीडिया पर लिखा गया है कि लिक्विड ऑक्सीजन को ट्रांसपोर्ट करने के लिए 24 क्राइओगेनिक कंटेनर्स का इंपोर्ट किया जाएगा। जिससे देश में ऑक्सीन की किल्लत को दूर करने में मदद मिलेगी। उन्होंने पीएम मोदी के संबोधन की सराहना की और कहा कि वह कोविड-19 से यथासंभव मुकाबले को लेकर प्रतिबद्ध है। ग्रुप ने कहा कि ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लि ए चार्टर्ड प्लेन द्वारा क्राइओगेनिक कंटेनरों का इंपोर्ट इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने की दिशा में एक कदम है।

मंगलवार को पीएम मोदी ने दिया था संबोधन
पीएम मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में फार्मा कंपनियों के साथ सभी स्टेकहोल्डर्स को ऑक्सीजन सिलेंडर की किल्लत जैसी तात्कालिक चुनौती से एकसाथ मिलकर निपटने का आह्वान किया था। पिछले साल जब कोरोना महामारी की पहली लहर भारत में आई थी तो समूह ने दक्षिण कोरिया, अमेरिका और चीन जैसे देशों से बड़े पैमाने पर वेंटीलेटर्स, पीपीई किट्स, मास्क और ग्लब्स का आयात किया था।