नहीं बढ़ी सुनील मित्तल की सैलरी, गोपाल विट्टल को कंपनी ने दिया 37 फीसदी हाइक

|

Published: 19 Jul 2018, 01:09 PM IST

भारती एयरटेल के प्रबंध निदेशक आैर सीर्इआे गोपाल विट्टल के मेहनताना में 37 फीसदी की बढ़ोतरी हुर्इ है।

नहीं बढ़ी सुनील मित्तल की सैलरी, गोपाल विट्टल को कंपनी ने दिया 37 फीसदी हाइक

नर्इ दिल्ली। भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल की कुल सैलरी पिछले में पिछले साल के मुकाबले में कोर्इ बढ़ोतरी नहीं हुर्इ है। वित्त वर्ष 2017-18 में मित्तल को 30.19 करोड़ रुपये सैलरी मिली है। मित्तल की सैलरी में कोर्इ बदलाव न होने का कारण ये है कि बीते इस साल कंपनी ने बीते एक दशक में सबसे कम मुनाफा किया है। कंपनी की रिपोर्ट के मुताबिक 2017-18 में एयरटेल का कुल मुनाफा मात्र 1,099 करोड़ रुपये रहा है। हालांकि भारती एयरटेल के प्रबंध निदेशक आैर सीर्इआे गोपाल विट्टल के मेहनताना में 37 फीसदी की बढ़ोतरी हुर्इ है। कंपनी की रिपोर्ट के अुनसार ही ये 16.97 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष में 2016-17 में मित्तल का कुल मेहनताना 30.14 करोड़ रुपये था वहीं विट्टल को इसी अवधि में 12.4 करोड़ रुपये भुगतान किया गया।


कर्मचारियों के आैसत वेतन में 7.1 फीसदी बढ़ोतरी
वित्त वर्ष 2017-18 भारती एयरटेल ने अपने कर्मचारियों के मेहनताने में आैसतन 7.1 फीसदी की ही बढ़ोतरी की है। हालांकि इसमें Key Managerial (KMP) को नहीं जोड़ा गया है। KMP में आैसतन 14.84 फीसदी की बढ़ोतरी हुर्इ है। सुनील मित्तल ने रिपोर्ट में कहा है कि, "पिछले कुछ समय में भारत के टेिलकाॅम इंडस्ट्री के भारी उठा-पटक देखने को मिला है।" उन्होंने कहा कि चरम मूल्य निर्धारण दबाव ने बाजार निकास और उद्योग समेकन को तेज किया, जो 3 प्लस 1 संरचना की ओर विकसित हुआ जो तीन निजी दूरसंचार ऑपरेटरों और ओएनआर सार्वजनिक क्षेत्र की फर्म है।


सुनील मित्तल ने क्या कहा
मित्तल ने रिपोर्ट में आगे कहा है कि, छोटी अवधि में कुछ को छोड़कर सभी टेलिकाॅम कंपनियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि थोड़े समय में ये नर्इ इंडस्ट्री के लिए लाभदाक होगा। साल दर साल के हिसाब से देखें तो एयरटेल वित्त वर्ष 2017-18 तक ग्राहकों की संख्या बढ़कर 41.3 करोड़ हो गया है। वहीं कंपनी का कुल समेकित राजस्व पिछले चार में सबसे कम होकर 83,688 करोड़ रुपये हो गय है।

यह भी पढ़ें -

Related Stories