पीएनबी स्कैमः बैंक ने नीरव मोदी से कहा, हमारे ही पैसों से बने अरबपति

|

Published: 13 Mar 2018, 03:05 PM IST

पीएनबी ने इस पत्र में भगौड़े हीरा कारोबारी नीरव माेदी से किसी भी तरह के सेटलमेंट करने से इन्कार कर दिया है।

पीएनबी स्कैमः बैंक ने नीरव मोदी से कहा, हमारे ही पैसों से बने अरबपति

नर्इ दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक ने नीरव मोदी के पत्र का जवाब भेज दिया है। पीएनबी ने इस पत्र में भगौड़े हीरा कारोबारी नीरव माेदी से किसी भी तरह के सेटलमेंट करने से इन्कार कर दिया है। पत्र में पीएनबी ने कहा कि वह जल्द से जल्द उनका पूरा पैसा वापस करें। पत्र में पीएनबी ने नीरव मोदी के उस अराेप को भी खारिज कर दिया है जिसमें नीरव मोदी ने कहा था कि इस मामले के मीडिया के बीच जाने से उनके ब्रांड वैल्यू को झटका लगा हैं। इसपर बैंक ने कड़े शब्दों में कहा है कि इससे आपने गैरकानूनी आैर धोखाधड़ी वाला काम किया है आैर इसी वजह से आपके ब्रांड वैल्यू खराब हुआ है। हम आपको याद दिला दें कि ये आपका ये ब्रांड हमारे पैसों से ही बना है।


नीरव मोदी ने की थी कुछ हिस्सा चुकाने की पेशकश

एक अखबार में छपी खबर के मुताबिक, 26 फरवरी को नीरव माेदी ने पीएनबी काे एक मेल भेजा था, जिसमें उसने बैंक से अपने कर्ज सेटलमेंट करने के लिए 2000 करोड़ रुपए के गहने, चालू खाते में 200 करोड़ रुपए आैर 50 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति देने की बात बात कही थी। बाद में पीएनबी ने नीरव मोदी के इस पेशकश से इंकार कर दिया आैर उससे पूरे पैसे चुकाने के लिए कहा। पीएनबी ने नीरव मोदी को लिखा कि, फ्रॉड के पैसों के बारे में आपको पूरी जानकारी होने के बावजूद भी आप थोड़े ही पैसेे वापस करने का पेशकश किया है। आैर आपके द्वारा दिए जाने वाली रकम का प्रपोजल अस्पष्ट है। आप देर करके केवल अधिक समय लेने के फिराक में है।


बैंक ने मैनेजमेंट टेकआेवर से किया मना

पीएनबी ने नीरव मोदी को आगे लिखा कि, आपने अपने अचल संपत्ति, फिक्सड डिपाॅिजिट आैर करेंट अकाउंट समेत कर्इ जानकारियां अभी तक नहीं दी है। आपने जो भी प्रस्ताव हमें दिया है उसमें कोर्इ वास्तविकता आैर विश्वसनीयता नहीं है। नीरव मोदी ने बैंक से कहा था कि, आप कंपनी के मैनेजमेंट टेकआेवर करें जिसे बाद में बैंक ने मानने से इंकार कर दिया। बैंक ने नीरव मोदी से इसके जवाब में कहा कि ये आपकी परेशानी है आैर आप पर देय राशि का भुगतान आैर अपने कर्मचारियों को पूरा वेतन देना आपका उत्तरदायित्व है।

Related Stories