दिल्ली में पेट्रोल की जगह पानी भरकर कर रहे धोखाधड़ी, एेसे करें बचाव

|

Updated: 12 Sep 2018, 02:38 PM IST

हाल ही में पेट्रोलियम मंत्री ने पेट्रोल पंप पर होने वाले फ्रॉड को लेकर एक रिपोर्ट जारी की थी। जिसके अनुसार पेट्रोल पंप पर फ्रॉड करने के मामले में दिल्ली का तीसरा स्थान था।

दिल्ली में पेट्रोल की जगह पानी भरकर कर रहे धोखाधड़ी, एेसे करें बचाव

नई दिल्ली। हाल ही में पेट्रोलियम मंत्री ने पेट्रोल पंप पर होने वाले फ्रॉड को लेकर एक रिपोर्ट जारी की थी। जिसके अनुसार पेट्रोल पंप पर फ्रॉड करने के मामले में दिल्ली का तीसरा स्थान था। दिल्ली में अप्रैल 2014 से दिसंबर 2017 तक कम तेल देने के 785 मामले उजागर हुए हैं। इतना ही नहीं दिल्ली में कई जगहों पर लोगों पेट्रोल की जगह पानी बेंच रहे हैं। हाल ही में दिल्ली के निजामुद्दीन वेस्ट स्थित एचपी के पेट्रोल पंप से एक ऐसा मामला मामला सामने आया है।

पेट्रोल की जगह दिया पानी
इस पेट्रोल पंप से जैसे ही लोग बाहर निकले, कुछ दूर जाने के बाद उनकी गाड़ियां जाम हो गईं। लोग किसी तरह से अपनी गाड़ियों को घसीटकर मकैनिक के पास लेकर गए। तब लोगों को पता चला कि उनकी गाड़ियों में पेट्रोल की जगह पानी भर दिया गया। इसके बाद लोग पेट्रोल पंप पर पहुंच गए। देखते ही देखते पंप पर 100-125 लोगों की भीड़ जमा हो गई। गुस्साए लोगों ने सड़क जाम कर दी।

लोग हुए ठगी का शिकार
जब लोगों ने अपनी गाड़ियों से पेट्रोल भरकर पुलिस को सौंपा। दो लीटर की बोतल में मुश्किल से 250 एमएल पेट्रोल निकला, बाकी पूरा पानी भरा हुआ था। अक्सर लोग पेट्रोल पंप पर फ्रॉड का शिकार हो जाते है। ऐसे में आपको पेट्रोल पंप पर तेल लेते समय ज्यादा सावधानी रखनी चाहिए। यहां हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसे टिप्स जिनसे आप ठगी का शिकार होने से खुद को बचा सकते हैं।

ऐसे रहे सावधान
अधिकतर लोग पेट्रोल पंप पर जाकर 100, 200 और 500 रुपये की राउंड फिगर में तेल भरवाने का ऑर्डर देते हैं। कई बार पेट्रोल पंप मालिक राउंड फिगर को मशीन पर फिक्स करके रखते हैं और इसमें ठगी का शिकार होने की ज्यादा संभावना बनी रहती है। इसलिए जरूरी है कि आप राउंड फिगर में पेट्रोल न भरवाएं। हमेशा अलग-अलग पेट्रोल पंपों से तेल डलवाएं और अपनी गाड़ी की माइलेज लगातार चेक करते रहें। पेट्रोल हमेशा डिजिटल मीटर वाले पंप पर ही भरवाएं । पेट्रोल पंप वाले से कहें कि वो तेल निकलना शुरू होने के बाद नोजल से हाथ हटा लें।अगर मीटर बेहद तेज चल रही है,तो समझ जाए कुछ गड़बड़ है। पेट्रोल पंप पर रीडिंग किस अंक से शुरू हुआ इस बात का हमेशा ध्यान रखें।

 

Related Stories