बच्चे के जन्म के बाद छोड़ी नौकरी, अब मिलेंगे अरबों रुपए

|

Published: 05 May 2018, 05:40 PM IST

चीन की स्मार्टफोन कंपनी शाओमी को भारत में नंबर-1 के मुकाम तक पहुंचाने का श्रेय भारत के मनु कुमार जैन को जाता है।

नई दिल्ली। चीन की स्मार्टफोन निर्माता कंपनी शाओमी सैमसंग को पछाड़कर भारत में नंबर -1 बन गई है। भारत में प्रवेश के मात्र तीन साल में ही शाओमी ने यह उपलब्धि हासिल कर ली है। करीब 18 अरब डॉलर की हैसियत रखने वाली इस चीनी कंपनी ने भारत में बहुत जल्द अपनी पैठ बनाई है। लेकिन शायद आप जानते नहीं होंगे कि शाओमी को इस मुकाम तक पहुंचाने का श्रेय भारत के मनु कुमार जैन को जाता है। आइआइटी दिल्ली से मैकेनिकल इंजीनियरिंग और आइआइएम कोलकाता से एमबीए की पढ़ाई करने वाले मनु कुमार जैन ने शाओमी को भारत में मार्केट लीडर बनाया है।

ई-कॉमर्स साइट जबॉन्ग के को-फाउंडर रहे हैं मनु कुमार

चीनी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी शाओमी को तीन साल में ही भारत की नंबर- 1 कंपनी बनाने वाले मनु कुमार भारत में खुद की फैशन इ-कॉमर्स कंपनी भी खोल चुके हैं। मनु ने अपने दोस्तों के साथ फैशन इ-कॉमर्स कंपनी जबॉन्ग डॉट कॉम का गठन किया था। लेकिन शाओमी से जुड़ने से पहले मनु ने 2014 में जबॉन्ग डॉट कॉम को अलविदा कह दिया था। जबॉन्ग को छोड़ने को लेकर एक इंटरव्यू में मनु ने कहा था कि उनकी परिवार बेंगलुरु में रहता है। जब उनके परिवार में एक बच्चे का जन्म हुआ तो उन्होंने परिवार को समय देने के बारे में सोचा। लेकिन जबॉन्ग का सारा काम दिल्ली में होने के कारण यह संभव नहीं था। एेसे में उन्होंने जबॉन्ग को अलविदा कह दिया और शाओमी जॉइन कर ली।

 

हॉन्ग-कॉन्ग के शेयर बाजार में सूचीबद्ध होगी शाओमी, जैन को होगा बड़ा फायदा

दरअसल करीब 18 अरब डॉलर वाली चीनी स्मार्टफोन कंपनी शाओमी जल्द ही हॉन्ग-कॉन्ग के शेयर बाजार में सूचीबद्ध होने जा रही है। कंपनी को इस आइपीओ से करीब 100 अरब डॉलर मिलने की संभावना जताई जा रही है। शाओमी के इस आइपीओ को बीते चार साल में सबसे बड़ा आइपीओ माना जा रहा है। कंपनी के इस कदम से मनु कुमार को भी बड़ा फायदा होने वाला है। दरअसल मनु कुमार शाओमी में एंप्लॉयी स्टॉक ऑनरशिप प्लान (ESOP) के तहत शेयर पाने वाले टॉप-10 कर्मचारियों में से एक हैं। उनके पास कंपनी के करीब 23 लाख शेयर हैं। उन्हें यह शेयर शाओमी के भारत में प्रवेश के बाद 5 बार में मिले हैं। मनु दुनिया के तीसरे सबसे बड़े ESOP होल्डर हैं। एक वेबसाइट के अनुसार शाओमी की इस लिस्टिंग से मनु कुमार को बड़ी रकम मिलेगी। वेबसाइट ने एक जानकार के हवाले से लिखा है कि मनु को मिलने वाली रकम का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है लेकिन यह कुछ मिलियन डॉलर जरूर होगी।

Related Stories