अपने नेटवर्क को बढ़ाने के लिए जेट एयरवेज बोइंग से खरीदने जा रहा है 75 मैक्स विमान

|

Updated: 18 Jul 2018, 09:08 AM IST

दोनों कंपनियों ने ब्रिटेन में चल रहे फार्नबोरो अंतरराष्ट्रीय एयरशो के दौरान यह समझौता किया है।

अपने नेटवर्क को बढ़ाने के लिए जेट एयरवेज बोइंग से खरीदने जा रहा है 75 मैक्स विमान

नई दिल्ली। देश की दूसरी बड़ी एयरलाइन जेट एयरवेज ने अपने नेटवर्क विस्तार के लिए अमरीकी विमान निर्माता कंपनी बोइंग के साथ पचहत्तर 737 मैक्स8 विमान खरीदने के लिए समझौता किया है। इस ऑर्डर की कीमत तकरीबन 8.8 अरब डॉलर (करीब 600 अरब रुपए) आंकी जा रही है। दोनों कंपनियों ने ब्रिटेन में चल रहे फार्नबोरो अंतरराष्ट्रीय एयरशो के दौरान यह समझौता किया है। जेट ने इससे पहले दो बार में डेढ़ सौ बोइंग 737 विमानों के ऑर्डर दिए थे, जबकि बीते जून में दोनों कंपनियों के 75 और विमान खरीदने पर सहमती बनी थी। दोनों कंपनियों ने अब इन अतिरिक्त 75 विमानों के लिए भी समझौता कर लिया है।

जेट एयरवेज को इस साल जून में मिला था पहला मैक्स विमान

जेट एयरवेज के अध्यक्ष नरेश गोयल ने कहा कि पचहत्तर 737 मैक्स विमानों का हमारा हालिया ऑर्डर बोइंग के साथ हमारी लंबी साझेदारी और कंपनी के विमानों में हमारे विश्वास को दर्शाता है। इससे विकास के प्रति हजारी प्रतिबद्धता और भारतीय विमानन बाजार की संभावना भी झलकती है। बोइंग ने बताया कि उसने इस साल जून में जेट एयरवेज को पहले मैक्स विमान की आपूर्ति की थी। ये ईंधन के मामले में 10 फीसदी से ज्यादा किफायती हैं। बोइंग के अध्यक्ष वाणिज्यिक विमान केविन मैकएलिस्टर ने कहा कि जेट के साथ अपनी भागीदारी का विस्तार कर कंपनी को प्रसन्नता है। यह 737 मैक्स की विश्वसनीयता का प्रमाण है। मुझे विश्वास है कि ये विमान अंतर्राष्ट्रीय मार्गों पर जेट के विस्तार में सहायक होंगे।

जेट के बेड़े में शामिल हैं 120 विमान

जेट के बेड़े में इस समय 120 विमान हैं। उसके नेटवर्क में एशिया, यूरोप और उत्तरी अमेरिका के 15 देशों के 60 शहर शामिल हैं। बोइंग ने बताया कि 737 मैक्स विमान कंपनी के इतिहास में सबसे तेजी से बिकने वाले विमान हैं। अब तक 4,600 737 मैक्स के ऑर्डर मिल चुके हैं। आपको बता दें के जेट एयरवेज को किफायती विमान सेवा उपलब्ध कराने के लिए जाना जाता है। अपनी आय बढ़ाने के लिए कंपनी समय-समय पर यात्रियों के लिए ऑफर पेश करती रहती है।

Related Stories