Google बनेगा भारत में Digitization करने में मददगार, करेगा 75 हजार करोड़ रुपए Invest

|

Updated: 13 Jul 2020, 06:02 PM IST

  • भारत में इक्विटी निवेश, साझेदारी और एक ऑपरेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर इकोसिस्टम के जरिए ये निवेश करेगी Google
  • भारत में Google Digitization लिए महत्वपूर्ण चार सेक्टर्स में करेगा फोकस, इस तरह से करेगा काम

नई दिल्ली। भारत में विदेशी निवेश की भरमार हो रही है। जहां एक ओर मुकेश अंबानी ने जियो प्लेटफॉर्म ( Jio Platforms ) के माध्यम से फेसबुक, इंटेल, क्वालकॉम जैसे निवेशकों का भरमार कर दी है। वहीं अब गूगल ( Google ) की ओर से भी बड़ा ऐलान कर दिया गया है। भारत को डिजिटाइजेशन ( India Digitization ) को बढ़ाने के लिए गूगल ( Google Investment ) ने 75 हजार करोड़ रुपए के निवेश का ऐलान कर दिया है। गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ( Google Ceo Sunder Pichai ) की ओर से यह ऐलान गूगल फॉर इंडिया वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के दौरान किया है। इस दौरान केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद भी मौजूद रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः- Policy Holders की किस तरह से मदद रहा है Artificial Intelligence, जानिए क्या कहते हैं जानकार

गूगल करेगा 75 हजार करोड़ रुपए का निवेश
गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने सोमवार को भारत के डिजिटीकरण फंड के लिए एक अहम घोषणा की। कंपनी भारत में डिजिटीकरण को बढ़ावा देने के लिए अगले पांच से सात सालों में 75 हजार करोड़ रुपए का निवेश करेगी। पिचाई ने गूगल फॉर इंडिया वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, "हम भारत में इक्विटी निवेश, साझेदारी और एक ऑपरेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर इकोसिस्टम के जरिए ये निवेश करेंगे। यह भारत के भविष्य और इसकी डिजिटल अर्थव्यवस्था में हमारे आत्मविश्वास का प्रतिबिंब है।

यह भी पढ़ेंः- Gold के मुकाबले Silver Price में 4 गुना का इजाफा, जानिए क्यों देखने को मिल रही है तेजी

इन चार सेक्टर्स में होगा निवेश
यह निवेश भारत के डिजिटीकरण के लिए महत्वपूर्ण चार क्षेत्रों पर फोकस करेगा। गूगल के सीईओ ने बताया कि इसमें पहला, प्रत्येक भारतीय को उसकी भाषा में कम कीमत में सूचना उपलब्ध कराना। दूसरा, नए उत्पादों और सेवाओं का निर्माण करना जो भारत की जरूरतों के मुताबिक हो। तीसरा, व्यवसायों को डिजिटल ट्रांसफर्मेशन पर जारी रखने और अधिक सशक्त बनाना। चौथा, स्वास्थ्य और कृषि और शिक्षा जैसे क्षेत्रों में प्रौद्योगिकी और कृत्रिम बुद्धिमत्ता का लाभ देना।