George Floyd Death : Racism के खिलाफ Google ने किया बड़ा ऐलान, खोली अपनी तिजोरी

|

Updated: 04 Jun 2020, 09:34 PM IST

  • Google Ceo Sundar Pichai ने नस्लवाद के खिलाफ संगठनों को 1.20 करोड़ डॉलर देने का ऐलान
  • Alphabet और Google विज्ञापन अनुदान में भी करेंगी दो करोड़ पचास लाख की राशि दान

नई दिल्ली। अल्फाबेट ( Alpabet ) और गूगल ( Google ) के सीईओ सुंदर पिचई ( Sundar Pichai ) ने अफ्रीकी-अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की मौत ( George Floyd Death ) के खिलाफ देशव्यापी विरोध के बीच नस्लीय असमानताओं को दूर करने के लिए काम करने वाले संगठनों को एक करोड़ बीस लाख डॉलर देने की घोषणा की है। कंपनी विज्ञापन अनुदान में भी दो करोड़ पचास लाख की राशि दान में देगी ताकि नस्लीय भेदभाव से लडऩे वाले संगठनों के मंचों पर महत्वपूर्ण आवश्यक जानकारियां उपलब्ध कराकर उनकी मदद की जा सकें।

America से लेकर India तक बढ़ी Gold की चमक, जानिए कितने हो गए हैं दाम

3.20 करोड़ दे चुकी है गूगल
पिचई ने देर रात बुधवार को अपने एक बयान में कहा कि प्रत्येक दस लाख डॉलर का उनका पहला अनुदान पुलिसिंग इक्विटी और समान न्याय पहल केंद्र के हमारे दीर्घकालिक भागीदारों को जाएगा और हम अपने गूगल डॉट ओआरजी के कार्यक्रमों के माध्यम से तकनीकी सहायता प्रदान करेंगे। गूगल ने अब तक पिछले पांच वर्षों में नस्लीय न्याय से संबंधित प्रयासों के लिए तीन करोड़ बीस लाख की आर्थिक सहायता प्रदान की है।

Supreme Court ने कहा, Loan Moratorium Period में ब्याज छूट ना देना है जयादा हानिकारक

आहत हो रहा है अश्वेत समुदाय
पिचई ने कहा कि हमारा अश्वेत समुदाय आहत हो रहा है और हम में से कई लोग उनके प्रति अपना समर्थन दिखाने के लिए भिन्न तरीकों को तलाशते आ रहे हैं और उन लोगों तक पहुंचते रहे हैं, जिनके साथ हम एकजुटता दिखाना पसंद करते हैं। गूगल ने अपनी जान गंवा चुके इन अश्वेत लोगों के प्रति अपना सम्मान दिखाते हुए 8 मिनट और 46 सेकंड का मौन भी रखा।

Supreme Court की सख्ती से Banking Sector धड़ाम, 6 दिन की बढ़त के बाद Share Market गिरावट के साथ बंद

दो करोड़ पचास लाख डॉलर की अतिरिक्त राशि भी दान
पिचई ने इस बारे में कहा कि मौन के क्षण की अवधि उतनी रही है, जितने समय तक के लिए मौत से पहले जॉर्ज फ्लॉयड को प्रताडि़त किया गया है। यह फ्लॉयड सहित कई अन्य लोगों पर हुए अन्याय को चिन्हित करती है। गूगल के कर्मचारियों की तरफ से अतिरिक्त दो करोड़ पचास लाख डॉलर की अतिरिक्त राशि भी दान में दी गई है, ताकि इस पहल में कंपनी की सहायता की जा सकें।