Facebook Fuel For India 2020: फेसबुक फाउंडर ने बताया, भारत में क्यों किया इतना बड़ा निवेश

|

Updated: 15 Dec 2020, 01:37 PM IST

  • मार्क जुकरबर्ग ने कहा कि भारत महान आर्थिक संभावनाओं का करता है प्रतिनिधित्व
  • फेसबुक फाउंडर ने कहा, दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के रूप में भारत की भूमिका अहम

नई दिल्ली। फेसबुक का दो दिवसीय फ्यूल फॉर इंडिया 2020 कार्यक्रम के पहले दिन का सेशन आज खत्म होने से पहले फेसबुक फाउंडर ने बताया कि उन्होंने भारत और खासकर जियो में इतना बड़ा निवेश क्यों और किस लिए। वहीं इस मौके पर मुकेश अंबानी ने फेसबुक के निवेश के साथ टेक्नोलॉजी के बारे में कई सवालों के जवाब भी दिए। इससे पहले फेसबुक ने चीफ रेवेन्यू ऑफिसर की ओर से कहा गया कि भारत में अपार संभावनाएं हैं। फेसबुक के डेविड फिशर ने कहा कि भारत के छोटे कारोबारियों की मदद करने के लिए अपना ऑनलाइन प्लेटफॉर्म शुरू किया है। यह फेसबुक द्वारा भारत में निवेश किया गया पहला स्टार्टअप है।

जुकरबर्ग का खुलासा क्यों किया निवेश?
भारत और जियो में निवेश के पीछे का कारण बताते हुए मार्क जुकरबर्ग ने कहा कि भारत महान आर्थिक संभावनाओं का प्रतिनिधित्व करता है। जिसकी वजह से इसलिए फेसबुक ने यहां भारी निवेश किया है। जुकरबर्ग ने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के रूप में भारत की भूमिका अहम है। डिजिटलाइजेशन की वजह से लोगों को सशक्त बनाने में मदद मिलेगी, जिससे आने वाले दशकों में देश में समृद्धि होगी।

मुकेश अंबानी ने कहा?
रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग के विजन की तारीफ करते हुए कहा कि जुकरबर्ग दुनिया की डिजिटल कनेक्टिविटी के आर्किटेक्ट हैं। उन्होंने मार्क जुकरबर्ग से कहा कि जियो डिजिटल कनेक्टिविटी लेकर आई है। वॉट्सऐप चैट के साथ पेमेंट होने से डिजिटल कनेक्निविटी बढ़ी है। रिटेल और जियोमार्ट भारत में हर किसी को वैश्विक सेवाओं में हिस्सा लेने का मौका दे रहा है।

कल होगा आखिरी सेशन
फेसबुक का फ्यूल फॉर इंडिया 2020 वर्चुअल इवेंट दो दिन चलने वाला है। 15 दिसंबर यानी आज इस इवेंट का फस्र्ट सेशन हो रहा है, जबकि 16 दिसंबर को इवेंट आखिरी सेशन होगा। फेसबुक इस प्लेटफॉर्म का उपयोग यह दिखाने के लिए कर रहा है कि वह भारत में मौजूदा समय में उपलब्ध फेसबुक फैमिली के कार्यक्रमों के माध्यम से हुए बदलाव पर क्या सोच रखता है।