नीरव मोदी फ्रॉड के बाद पीएनबी में एक आैर बड़ा घोटाला, 9.1 करोड़ रुपए की लगी चपत

|

Updated: 15 Mar 2018, 03:56 PM IST

इस बार पीएनबी को चूना लगाने वाली कंपनी का नाम चंदरी पेपर एंड एलाॅय प्ररोडक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड है।

नीरव मोदी फ्रॉड के बाद पीएनबी में एक आैर बड़ा घोटाला, 9.1 करोड़ रुपए की लगी चपत

नर्इ दिल्ली। देश की दूसरी सबसे बड़ी सार्वजनिक क्षेत्र की बैंक पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी ) में धोखाधड़ी का एक आैर मामला सामने आया है। इस बार पीएनबी को 9.1 करोड़ रुपए का चूना लगा है। इस बार पीएनबी को चूना लगाने वाली कंपनी का नाम चंदरी पेपर एंड एलाॅय प्ररोडक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड है। इस धोखाधड़ी में सबसे बड़ी हैरानी की बात ताे ये है कि इसे भी पीएनबी के उसी शाखा से अंजाम दिया गया है जहां नीरव मोदी ने पीएनबी को लगभग 12,700 करोड़ रुपए का चूना लगाया है। पीएनबी की ये शाखा मुंंबर्इ के ब्रैंडी हउस में स्थित है। बैंक ने इस मामले में सीबीआइ को केस दर्ज करा दिया है। शुरूआती जानकारियों में पता चला है कि इस मामले में भी बैंक अधिकारियों की मिलीभगत है।

नहीं किया गया नियमों का पालन

हालांकि पीएनबी ने अभी इस मामले पर मीडिया में कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया है। वहीं चंदरी पेपर पेपर एंड एलाॅय प्ररोडक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड ने भी अभाी इस मामले पर कुछ भी नहीं बोला है। इसे मामले को लेकर 9 मार्च को ही एफआइआर दर्ज करा दिया गया था। इस कंपनी पर आरोप है कि कंपनी को कर्ज देते समय जरुरी नियमाें का पालन नही किया गया।


नीरव माेदी फ्रॉड केस जैसा ही मामला

आपको बता दें कि अभी कुछ दिन पहले ही इसी बैंक ने सेबी आैर बाॅम्बे स्टाॅक एक्सचेंज को 11,400 करोड़ रुपए के घोटाले के बारे में बताया था जिसे मुंबर्इ के ब्रैंडी हाउस स्थित पीएनबी शाखा से अंजाम दियाग गया था। जांच के बाद ये इस घोटाले की कुल रकम बढ़कर 12,700 करोड़ रुपए बतार्इ जा रही है। इस घोटाले में लेटर अाॅफ अंडरटेकिंग (एलआयू) को गलत तरीके से इस्तेमाल करके अंजाग दिया गया था। फिलहाल इस घोटाले की जांच कर्इ जांच एजेंसियां मिलकर कर रही हैं। इसमें हीरो कारोबारी नीरव मोदी आैर मेहुल चौकसी का नाम शामिल है। इस धाेखाधड़ी में गीतांजली ज्वेलर्स, गिली इंडिया आैर नक्षत्र के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है।

Related Stories