हनीट्रेप की आरोपी महिलाओं समेत तीन को भेजा जेल

|

Published: 02 Jul 2020, 10:14 PM IST

भीमगंजमंडी पुलिस द्वारा बलात्कार के झूठे मामले में फंसाने के लिए धमकाकर रुपए वसूलने के मामले में गिरफ्तार दो महिलाओं समेत तीन आरोपियों को रिमांड अवधि समाप्त होने पर गुरुवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से तीनों को जेल भेज दिया।

कोटा. भीमगंजमंडी पुलिस द्वारा बलात्कार के झूठे मामले में फंसाने के लिए धमकाकर रुपए वसूलने के मामले में गिरफ्तार दो महिलाओं समेत तीन आरोपियों को रिमांड अवधि समाप्त होने पर गुरुवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से तीनों को जेल भेज दिया।
थानाधिकारी हर्षराजसिंह खरेड़ा ने बताया कि पुलिस ने मंगलवार को दो महिलाओं समेत तीन आरोपियों को कोटा शहर समेत आस.पास के क्षेत्रों में लोगों को बलात्कार के झूठे मामले में फंसाकर लाखों रुपए ऐंठने के मामले में गिरफ्तार किया था। उन्हें न्यायालय ने बुधवार को एक दिन के रिमांड पर सौंपा। रिमांड अवधि समाप्त होने पर गुरुवार को तीनों को न्यायालय में पेश किया, जहां से तीनों को जेल भेज दिया गया।
गौरतलब है कि कोटा शहर की कुछ महिलाओं द्वारा गिरोह बनाकर फर्जी बलात्कार के मामले दर्ज करवाकर लोगों को ब्लैकमेल कर लाखों रुपए वसूलने का काम कर रही थी। 20 जून को विद्युत विभाग के लाइन मैन सीताराम ने दर्ज करवाई रिपोर्ट में बताया कि उसे घर सफाई व खाना बनाने के लिए काम करने के लिए नौकर की तलाश थी। इस दौरान एक महिला काम करने उसके घर आई। जिसे उसने कोरोना के चलते काम पर नहीं रखा। इसके बाद 6 जून को उसकी बेटी का फोन आया कि वह उसके यहां काम करना चाहती है और 7 जून को घर पर काम किया, लेकिन अधिक रुपए मांगने के कारण उसे एक दिन के काम के रुपए देकर मना कर दिया। इसके चार पांच दिन बाद ही लड़की ने उस पर झूठा बलात्कार का आरोप लगाकर अधिवक्ता बाबूलाल मेघवाल के जरिए उससे 1.40 लाख रुपए ले लिए। इसके बाद से वह उसे 10 लाख रुपए की मांग करते हुए बलात्कार के झूठे मामले में फसाने के लिए थमका रही है। इस मामले में भीमगंजमंडी पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की तो मामला सामने आ गया।