ट्रेन की चपेट में आया तेंदुआ, पूंछ और एक पैर कटा

|

Updated: 22 Jan 2021, 08:26 PM IST

कोटा. बूंदी जिले के भीमलत महादेव क्षेत्र में गुरुवार देर रात को ट्रेन की चपेट में आने से मादा तेंदुआ गंभीर घायल हो गई। उसे रेक्स्यू कर कोटा लाया गया। इसका ऑपरेशन कर अभेड़ा बायोलोजिकल पार्क में शिफ्ट किया गया है। वन्यजीव विभाग के चिकित्सक डॉ. विलास राव ने बताया कि मादा तेंदुआ के सिर व शरीर पर गंभीर काफी चोट है। इसके पूंछ व आगे का एक पैर कट कर अलग लटका हुआ था। सर्जरी कर कटे पैर को अलग किया गया।

कोटा. बूंदी जिले के भीमलत महादेव क्षेत्र में गुरुवार देर रात को ट्रेन की चपेट में आने से मादा तेंदुआ गंभीर घायल हो गई। उसे रेक्स्यू कर कोटा लाया गया। इसका ऑपरेशन कर अभेड़ा बायोलोजिकल पार्क में शिफ्ट किया गया है। वन्यजीव विभाग के चिकित्सक डॉ. विलास राव ने बताया कि मादा तेंदुआ के सिर व शरीर पर गंभीर काफी चोट है। इसके पूंछ व आगे का एक पैर कट कर अलग लटका हुआ था। सर्जरी कर कटे पैर को अलग किया गया।
बूंदी उपवन संरक्षक सोनल जोहरीहार ने बताया कि दुर्घटना रात को करीब 2.30 बजे हुई है। सूचना पर वनकर्मी मौके पर पहुंचे। इसके बाद कोटा से टीम को बुलाया गया। तेंदुआ का ऑपरेशन कर दिया गया है, लेकिन स्थिति काफी गंभीर है। गौरतलब है कि हाड़ौती के जंगलों में से गुजर रही पटरियां व सड़क मार्ग वन्यजीवों के वन्यजीवों के लिए घातक हो रही है। इससे पहले 6 जनवरी को मुकुन्दरा हिल्स टाइगर रिजर्व के जवाहर सागर रेंज के नाका श्रीपुरा क्षेत्र में एक भालू की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी।