ट्रेन में टिकट भूल जाइए , दस दिन ट्रेनों में रहेगी मारामारी, नो रूम, लंबी वेटिंग

|

Published: 19 Oct 2019, 06:22 PM IST

कोटा मंडल और राज्य के अन्य मंडलों से गुजरने वाली ट्रेनों का एक जैसा हाल
कोटा-पटना एक्सप्रेस में वेटिंग 430 तक पहुंची

कोटा। त्योहारी सीजन में दीपावली से पहले और बाद में लंबी दूरी की ट्रेनों में कन्फर्म बर्थ उपलब्ध नहीं हो पा रही है। त्योहारी सीजन में 22 अक्टूबर से 2 नवम्बर के बीच बर्थों की बहुत ज्यादा मारीमारी रहेगी। कोटा मंडल से गुजने वाली ट्रेनों में दीपावली के लिए ट्रेनों की सभी बर्थें बुक हो चुकी हैं। गाड़ी संख्या 13240 कोटा-पटना एक्सप्रेस में प्रतीक्षा 430 तक पहुंच गई है। इस ट्रेन में 22 अक्टूबर को 336, 23 अक्टूबर को 430, 26 अक्टूबर को 35 और 28 अक्टूबर को प्रतीक्षा सूची 129 तक पहुंच गई है। इसी तरह अजीमाबाद एक्सप्रेस में भी लंबी प्रतीक्षा सूची चल रही है।

गाड़ी संख्या 12964 उदयपुर-निजामुद्दीन मेवाड़ एक्सप्रेस में 5 नवम्बर तक कन्फर्म टिकट उपलब्ध नहीं है। दीपावली के आसपास तो कई दिन ऐसे भी है कि वेटिंग टिकट भी उपलब्ध नहीं है। स्लीपर, एसी प्रथम श्रेणी, एसी द्वितीय श्रेणी और एसी तृतीय श्रेणी में से किसी भी बर्थ उपलब्ध नहीं है। गाड़ी संख्या 12415 इंदौर-नई दिल्ली इंटरसिटी में 11 नवम्बर तक कन्फर्म बर्थ उपलब्ध नहीं है। कोटा-निजामुद्दीन जनशताब्दी एक्सप्रेस में 22 से 27 अक्टूबर तक कन्फर्म सीट उपलब्ध नहीं है। जामनगर-माता वैष्णोदवी एक्सप्रेस में भी इस अवधि में प्रतीक्षा सूची का ही टिकट मिल रहा है। गाड़ी संख्या 12953 अगस्तक्रांति राजधानी एक्सप्रेस में भी 22 अक्टूबर से नवम्बर के पहले सप्ताह में कन्फर्म टिकट उपलब्ध नहीं है। गाड़ी संख्या में 12951 मुंबई सेन्ट्रल-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस में भी किसी भी श्रेणी में बर्थ उपलब्ध नहीं है। यह ट्रेन दीपावली के आसपास सभी दिनों के लिए पूरी तरह बुक हो चुकी है। दीपावली के आसपास कोटा-निजामुद्दीन स्पेशल ट्रेन में भी किसी भी श्रेणी में बर्थ उपलब्ध नहीं है।

पर्यटकों के लिए खुशखबरी: भैंसरोडगढ़ अभयारण्य में मिलेगा जंगल
सफारी का मौका, खुले वाहनों में नजदीक से देख सकेंगे वन्यजीव

इन ट्रेनों में भी नहीं मिल रही बर्थ
स्वर्ण मंदिर मेल, पश्चिम एक्सप्रेस, देहरादून एक्सप्रेस, गुजरात संपर्कक्रांति और नंददादेवी एक्सप्रेस में दीपावली से पहले और कुछ दिन बाद तक बर्थ मिलना मुश्किल है। ये ट्रेनें एक माह पहले की बुक हो चुकी हैं। इस कारण यात्रियों को निराश होना पड़ा रहा है।

जयपुर से भी पटना जाना चुनौती
बाड़मेर से वाया जयपुर होकर चलने वाली गाड़ी संख्या 15631 बाड़मेर-गया एक्सप्रेस में 6 नवम्बर तक कन्फर्म टिकट नहीं मिल रहा है। ऐसे में बाड़मेर, जोधपुर, जयपुर और भरतपुर स्टेशन से बिहार जाने वाले यात्रियों को बर्थ मिलना मुश्किल है। इसी तरह जयपुर, जोधपुर, अजमेर से चलने वाली लंबी दूरी की ट्रेनों में दीपावली के समय बर्थों की मारामारी चल रही है।

इन स्टेशनों के यात्री हो रहे प्रभावित
कोटा मंडल से गुजरने वाली ट्रेनों में कन्फर्म बर्थ नहीं मिलने से कोटा, केशवरायपाटन, रामगंजमंडी, भवानीमंडी, सवाई माधोपुर, गंगापुर सिटी, हिंडौन सिटी, बयाना जंक्शन और भरतपुर से सफर करने वाले यात्रियों को तकलीफ उठानी पड़ेगी।

30 प्रतिशत यात्रीभार बढ़ा
त्योहारी सीजन में ट्रेनों में करीब 30 प्रतिशत यात्रीभार बढ़ गया है। कोटा मंडल से औसत हर रोज 1 लाख यात्री सफर करते हैं, लेकिन इन दिनों में इनकी संख्या बढ़ गई है।


चलेगी एसी स्पेशल ट्रेन
यात्रीभार को देखते हुए रेल प्रशासन ने वाया कोटा होकर पुणे से निजामुदद्ीन तक स्पेशल चलाने की योजना बनाई है। गाड़ी संख्या 82109 पुणे-निजामुद्दीन सुविधा स्पेशल साप्ताहिक टे्रन 22 अक्टूबर 2019 से 5 नवम्बर 2019 तक प्रत्येक मंगलवार एवं गाड़ी संख्या 82110 निजामुद्दीन-पुणे सुविधा स्पेशल साप्ताहिक ट्रेन 23 अक्टूबर 2019 से 6 नवम्बर 2019 तक प्रत्येक बुधवार को चलेगी। यह गाड़ी 13 वातानुकूलित तृतीय श्रेणी एवं 02 एसएलआर सहित कुल 15 कोचों के साथ चलेगी। यह ट्रेन कोटा मंडल के कोटा और सवाई माधोपुर स्टेशन पर ठहरेगी।