पोते के बाद दादा भी संक्रमित, आरटीओ कर्मचारी मिला पॉजिटिव

|

Published: 30 May 2020, 01:09 AM IST

पॉश कॉलोनी तलवंडी में पहुंचा संक्रमण

कोटा. कोटा में कोरोना का संक्रमण थमने का नाम ही नहीं ले रहा। हर रोज नए इलाकों में संक्रमण फैलता जा रहा है। शुक्रवार को कोरोना के 17 पॉजिटिव सामने आए। अब तक कुल 440 पॉजिटिव आ चुके हैं। एक मरीज तलवंडी से भी है। 43 वर्षीय व्यक्ति फ ाइनेंस का काम करता है। जगपुरा आरटीओ कार्यालय का छावनी निवासी एक व्यक्ति संक्रमित मिला। हॉट स्पॉट छावनी इलाके से 10 मरीज पॉजिटिव पाए गए।

मेडिकल कॉलेज प्राचार्य डॉ. विजय सरदाना ने बताया कि सुबह जारी रिपोर्ट में तलवंडी निवासी 43 वर्षीय युवक, कोटड़ी निवासी 33, 37 व 47 वर्षीय युवक, शिवपुरा निवासी 20 वर्षीय युवक, छावनी निवासी 20, 22, 27, 30, 51, 65, 73 व 80 वर्षीय पुरुष व 24, 31 व 65 वर्षीय महिला पॉजिटिव पाए गए। रात को जारी सूची के अनुसार संजय नगर निवासी 22 वर्षीय एक युवक और पॉजिटिव पाया गया।

Read More : बचाव के उपायों को अपनाया तो जल्द कोटा की ग्रीन जोन में होगी वापसी

पोते के बाद दादा भी कोरोना संक्रमित : छावनी इलाके में पोते के बाद दादा भी कोरोना संक्रमण के शिकार हो गए। 80 वर्षीय बुजुर्ग भी कोरोना की चपेट में आए। उनका पोता गुरुवार को संक्रमित मिला था। उनकी 51 वर्षीय पुत्रवधू, 27 और 22 वर्षीय पोते और 24 वर्षीय पौत्रवधू संक्रमित हुए हैं।

Read More कोटा में टिड्डियों का हमला, मचा हड़कम्प..

एक ही इलाके के 3 लोग संक्रमित : कोटड़ी फ कीरों की मस्जिद इलाके के 3 लोग कोरोना की चपेट में आए हंै। इनमें 47 वर्षीय व्यक्ति ऑटो चालक है। 10 दिन पहले की जांच रिपोर्ट नेगेटिव थी। यहीं 33 वर्षीय और 37 वर्षीय युवक भी पॉजिटिव हैं। छावनी निवासी 31 वर्षीय युवती कोरोना पॉजिटिव आई। युवती ने बुखार और गले में खराश होने पर एमबीएस अस्पताल में कोरोना जांच करवाई थी।

परिवहन कार्यालय में करता है काम : छावनी में 73 वर्षीय बुजुर्ग संक्रमित है। उनके 65 वर्षीय छोटे भाई, 51 वर्षीय भतीजा, 30 वर्षीय पुत्र और 65 वर्षीय भाभी पॉजिटिव आई है। पॉजिटिव आया 30 वर्षीय युवक जगपुरा परिवहन कार्यालय में कार्य करने जाता है। उसके भाई, चाचा, ताई और पिता संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा 51 वर्षीय व्यक्ति टेलरिंग का कार्य करता है।

11 मरीज हुए स्वस्थ
कोविड अस्पताल से शुक्रवार को कोरोना के 11 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। अस्पताल अधीक्षक डॉ. सीएस सुशील ने बताया कि 7 पुरुष व 4 महिलाओं को डिस्चार्ज किया। इनमें साजीदेहड़ा निवासी 25 वर्षीय, पाटनपोल 22 वर्षीय, विज्ञान नगर 37 वर्षीय, अमन कॉलोनी 54 वर्षीय, नगर निगम कॉलोनी 47 वर्षीय, गुमानपुरा 43 वर्षीय व छावनी 35 वर्षीय पुरुष, अमन कॉलोनी की 40, छह साल की बालिका, चन्द्रघटा की 45 वर्षीय व साजीदेहड़ा की 20 वर्षीय महिला शामिल है।

रामपुरा क्षेत्र के लोगों को पानी के लिए करना पड़ रहा रतजगा

रेलवे 60 हजार तक पहुंचाएगा दवा
आयुष मंत्रालय की सिफारिश के बाद कोटा मंडल के रेलकर्मचारी और परिजनों को केन्द्रीय कर्मचारी हित निधि समिति की ओर से हैम्योपैथी दवा आर्सेनिकम एल्बम 30 का वितरण किया जाएगा। आयुष मंत्रालय की सिफारिश के अनुसार यह दवा कोरोनावायरस संक्रमण के खिलाफ रोगनिरोधी दवा के रूप में दी जा सकती है। रेलवे एम्पलाइज यूनियन के महामंत्री मुकेश गालव ने बताया रेलकर्मी और परिजनों को मिलाकर करीब 60 हजार लोगों तक इस दवा को पहुंचाया जाएगा।