Corona Death...चौबीस घण्टे में एईएन पुत्र व पिता को ली गया कोरोना, सहायक आचार्य की भी मौत

|

Published: 15 May 2021, 07:20 PM IST

झालावाड़ जिले में 12 मौत 102 नए पॉजिटिव

झालावाड. मेडिकल कॉलेज में कोरोना के शनिवार को प्रथम लॉट में 369 सैंपल टेस्ट किए गए। इसमें 102 सैंपल पॉजिटिव मिले। संक्रमण दर 27.64 फीसदी रही। शुक्रवार को 12 संक्रमित मरीजों ने दम तोड़ दिया। द्यानिकी एवं वानिकी महाविद्यालय के वन जीव विज्ञान एवं वृक्ष सुधार कार्यक्रम के सह आचार्य डॉ. परमेश्वर सिंह का शुक्रवार निधन हो गया। खानपुर निवासी विद्युत निगम कवाई में कार्यरत सहायक अभियंता व उनके पिता की कोरोना से कोटा में मौत हो गई। दो दिन के अंतराल में पिता-पुत्र की मौत से परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। वहीं एसआरजी चिकित्सालय के सभी वार्डों के बेड शनिवार को भी फुल रहे। लेकिन आपातकालीन वार्ड में भर्ती मरीजों में मामूली राहत रही। यहां कुछ बेड खाली रहे। लेकिन मरीजों को देखा जाए तो कई गंभीर प्रकृति के मामलों में इजाफा हुआ है। कई गंभीर मरीज एसआरजी में ऐसे आए जिनकी सांसे अटकी हुई थी।वहीं ऑक्सीजन शनिवार को तो पर्याप्त रही। लेकिन रविवार को फिर से 8से 9 टन ऑक्सीजन की जरूरत होगी। इसके लिए संबधित अधिकारियों द्वारा सम्पर्क साधा जा रहा है। वहीं शुक्रवार देर रात को जांचे 862 सैंपलों की रिपोर्ट में से 219 पॉजिटिव मिले। जिले में कुल पॉजिटिव 16 हजार 34, रिकवर 12 हजार 283, एक्टिव केस 3 हजार 604 जबकि कुल मौतों की संख्या 145 हो चुकी। कोरोना से बीतें 18 घंटें की मौतों की बात करें तो कुल 1 दर्जन मौत हुई। इसमें नवजात भी शामिल है। असनावर के रूपपुरा बाल्दिया के 28 वर्षीय महिला, पिड़ावा की 65 वर्षीय महिला, झालावाड़ की 60 वर्षीय महिला एवं झालावाड़ के 65 वर्षीय पुरूष, पचपहाड़ के गंगपुरा खेडा के 75 वर्षीय महिला, रटलाई के खेरिया की 45 वर्षीय पुरूष, बकानी के 30 वर्षीय पुरूष, पचपहाड़ के सामिया के 50 वर्षीय पुरूष समेत नेहरावद के 73 वर्षीय पुरष एवं झालरापाटन की 38 वर्षीय महिला झालरापाटन के 60 वर्षीय पुरष समेत बकानी के राजपुरा का 2 माह का एक नवजात शामिल है।
सहायक अभियंता व पिता की कोरोना से मौत

खानपुर। खानपुर निवासी व बारां जिले के कवाई मे विद्युत वितरण निगम में कार्यरत सहायक अभियंता की कोरोना से मौत हो गई। परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार सहायक अभियंता कुंजबिहारी यादव (40) गत पखवाडे अपने करीबी रिश्तेदार के यहां जाने के दौरान कोरोना संक्रमित हो गए थे। उनकी तबियत बिगडने से पिछले एक सप्ताह से कोटा के निजी अस्पताल में ंउपचार चल रहा था। जहां उपचार के दौरान शुक्रवार शाम को उनकी मौत हो गई। परिवारजनों ने उनका कोटा मे ही अंतिम कोविड प्रोटोकोल के तहत अंतिम संस्कार कर दिया। वहीं सहायक अभियंता के पिता खेमचन्द यादव भी कोरेाना पॉजिटिव होने के कारण शनिवार सुबह उनके पिता खेमचन्द यादव (65) की भी मौत हो गई। पिता भी कोरोना पॉजिटिव थे तथा पुत्र के साथ कोटा मे रह रहे थे।
कोरोना से सह आचार्य का निधन
झालरापाटन । कोरोना संक्रमण के चलते उद्यानिकी एवं वानिकी महाविद्यालय के वन जीव विज्ञान एवं वृक्ष सुधार कार्यक्रम के सह आचार्य डॉ. परमेश्वर सिंह का शुक्रवार शाम को झालावाड़ मेडिकल कॉलेज में उपचार के दौरान निधन हो गया। चौहान को 11 मई को उपचार के लिए झालरापाटन के सेटेलाइट अस्पताल में भर्ती कराया था। तबीयत बिगडऩे से उन्हें झालावाड़ रैफर किया गया। जहां शुक्रवार शाम 5 बजे उनका निधन हो गया। डॉ. चौहान महाविद्यालय में वर्ष 2006 से अनवरत सेवाएं दे रहे थे। वह अपने मधुर व्यवहार के कारण विद्यार्थीयों व स्टाफ के बीच लोकप्रिय रहें। महाविद्यालय में संचालित होने वाली अधिकांश गतिविधियों में उनकी भागीदारी रहती थी। वह अपने पीछे माता-पिता, पत्नी, पुत्र और भाई-बहनों का भरा पूरा परिवार छोड़ गए। अधिष्ठाता डॉ. आई बी मौर्य ने बताया कि महाविद्यालय में 15 मई को निर्धारित सभी परीक्षाएं आगामी आदेश तक निरस्त कर दी गई हैं।