कोरोना: औसतन 32 लोग रोज हो रहे संक्रमित, मौत के मामले में एमपी का दूसरा स्थान, कुल संक्रमित 765

|

Published: 15 Apr 2020, 07:31 AM IST

मध्यप्रदेश संक्रमितों के मामले में देश में 5वें नंबर पर आ गया है।

भोपाल. कोरोना वायरस का संक्रमण मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ता जा रहा है। मध्यप्रदेश में संक्रमितों की संख्या 765 हो गई है। वहीं, अब तक कोरोना संक्रमण के कारण 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। इंदौर में लगातार हालत बिगड़ते जा रहे हैं। इंदौर में मंगलवार को सबसे ज्यादा 65 मरीज मिले। एक दिन में मिले मरीजों का यह सर्वाधिक आंकड़ा है। वहीं, देर रात 16 नए मरीज मिलने के बाद इंदौर में संक्रामितों की संख्या 427 हो गई है। मध्यप्रदेश में अब तक 53 लोगों की मौत हो चुकी है।

देश का दूसरा राज्य जहां मौतें 50 से ज्यादा
मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के कारण 50 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। महाराष्ट्र के बाद मध्यप्रदेश देश का दूसरा राज्य है जहां संक्रमण से मरने वालों की संख्या 50 के पार हो गई है। वहीं, इंदौर देश का दूसरा सबसं संक्रमित जिला है।

भोपाल में मिले 16 मरीज
मंगलवार को राजधानी भोपाल में 16 संक्रमित मिले। भोपाल में एक और कोरोना पॉजिटिव की मौत हो गई। कोरोना के कारण अब तक शहर के पांच लोगों की जान जा चुकी है। इनमें तीन जहांगीराबाद इलाके के हैं। मंगलवार को एक और संदिग्ध की हमीदिया अस्पताल में मौत हुई है।

मध्यप्रदेश पांचवे नंबर पर
प्रदेश में कुल संक्रमितों के मामले में मध्यप्रदेश अब पांचवें नंबर पर आ गया है। मौत के मामले में हमारी स्थिति बदतर है। 14 अप्रैल तक महाराष्ट्र में बाद हम दूसरे नंबर पर हैं। प्रदेश के 26 जिले संक्रमण के शिकार हो चुके हैं। इंदौर और भोपाल के सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में उज्जैन, खंडवा और मुरैना हैं। मध्यप्रदेश में कोरोना की चपेट में औसतन 32 लोग रोज कोरोना की चपेट में आ रहे हैं।

मालवा-निमाड़ में भी बढ़ा खतरा
मध्यप्रदेश में मालवा के बाद अब निमांड अंचल में भी कोरोना संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है। इंदौर-उज्जैन के अलावा अब खंडवा में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। आगर और शाजापुर में भी खतरा बढ़ता जा रहा है। अंचल में एक ही दिन में 27 मरीज मिले हैं।

बड़वानी में सीएमएचओ भी संक्रमित
मध्यप्रदेश में स्वास्थ्य विभाग के कई अधिकारी कोरोना संक्रमण की चपेट में हैं। बड़वानी जिले की सीएमएचओ डॉ. अनीता सिंगारे, की कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। 3 अप्रैल को बड़वानी के सेंधवा के तीन लोग संक्रमित पाए जाने के बाद सीएमएचओ वहां पहुंची थीं। साथ ही सेंधवा के मरीजों के बड़वानी जिला अस्पताल में इलाज के दौरान व संभवतः उन्हीं से संक्रमित नर्स के साथ सीएमएचओ के संपर्क में आने का संदेह है।