ब्रॉडगेज लाइन का कार्य पूरा, अब 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेगी ट्रेन

|

Published: 01 Apr 2021, 12:24 AM IST

सीसीआरएस ने निरीक्षणकर रेल चलाने की मंजूरी दी, लंबे समय से था इंतजार, रोजगार के साधन बढ़ेंगे
सनावद से भोपाल या खंडवा ट्रेन चालू करने का अंतिम निर्णय रेल मंत्रालय करेगा

Broad gauge line work completed, train will now run at a speed of 130


सनावद. नगर में ब्रॉडगेज रेलवे लाइन सहित नए स्टेशन का कार्य व कायाकल्प करीब दो महीने पूर्व हो गया था। इसके बाद सीसीआरएस का निरीक्षण बुधवार को हुआ। अधिकारियों के निरीक्षण के बाद इस मार्ग पर रेल चलाने के लिए अनुमति दी गई। नए ट्रेक पर 100 से 130 प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन दौड़ेगी। सनावद से भोपाल या खंडवा के बीच ट्रेन चलाने की योजना है। हालांकि इस बात का निर्णय रेल मंत्रालय द्वारा लिया जाएगा। मुख्य रेल संरक्षा आयुक्त एसके पाठक ने सनावद एवं निमाड़ खेड़ी रेलवे स्टेशन तक 12 किलोमीटर रेल मार्ग का निरीक्षण किया। जिसके बाद पत्रकारों से चर्चा मेंं जानकारी दी। करीब 6 घंटे से अधिक समय तक आयुक्त पाठक ने रेल गेट, रेलवे पुल-पुलिया एवं मार्ग की गुणवत्ता को देखा। साथी निरीक्षण के बाद पत्रकारों से चर्चा करते हुए उन्होंने बताया कि इस रेल मार्ग का निरीक्षण किया गया।
इस मार्ग पर रेल लाइन रेल चलाने की स्वीकृति दी जाती है। स्थानीय विधायक सचिन बिर्ला द्वारा भी एक ज्ञापन दिया गया है। उस संबंध में भी रेल मंत्रालय को अवगत करा कर कार्रवाई के लिए इस ओर ध्यान दिलाया जाएगा। पाठक ने बताया कि सनावद रेलवे स्टेशन अभी तक बंद था। लेकिन इसके शुरू होने से क्षेत्र में अपार संभावनाएं बढ़ेगी। साथी इस मार्ग पर रेल का परिचालन शुरू होने के बाद इटारसी भोपाल, खंडवा तक का सफर आसानी से किया जा सकता है। पाठक के डीआरएम विनीत गुप्ता सहित सभी वरिष्ठ अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।
दुल्हन की तरह सजा स्टेशन
सीसीआरएस निरीक्षण के पूर्व रेलवे स्टेशन को दुल्हन की तरह सजाया गया था। रेलवे स्टेशन पर फूल मालाओं के साथ-साथ रंगाई पुताई के बाद अलग ही नजर आ रहा था। साथ ही यहां पर शाम 6.30 बजे जैसे ही ब्रॉडगेज लाइन पर पहली गाड़ी आई वैसे ही हर और खुशी से छा गई।
नागरिकों ने किया ताली बजाकर स्वागत
सीसीआरएस निरीक्षण के दौरान निमाड़ खेड़ी से रवाना हुई गाड़ी। करीब 10 मिनट में रेलवे स्टेशन पर पहुंची। जहां स्टेशन के दोनों ओर खड़े नागरिकों ने ताली बजाकर ट्रेन का स्वागत किया। वहीं नागरिकों की जिज्ञासा इस बात को लेकर थी कि निरीक्षण में क्या रहा। लेकिन आयुक्त पाठक द्वारा मार्ग स्वीकृति मिलने के बाद नागरिक भी खुशी दोगुनी हो गई।