टीका फिर खत्म, आज एक ही केंद्र में टीकाकरण

|

Published: 17 Jun 2021, 09:57 AM IST

तीन दिन पहले विजयराघवगढ़ में दोपहर में ही खत्म हुई टीके की दवा, केंद्र से मायूस लौटे नागरिक.

- युवाओं ने कहा कोविड-19 टीकाकरण जागरूकता अभियान का क्या औचित्य जब केंद्र में टीके का पर्याप्त डोज उपलब्ध नहीं रहता.

कटनी. कोविड-19 वैक्सीनेशन अभियान में टीके की कमीं का संकट लगातार बरकरार है। इसका असर जिले में चलाए जा रहे अभियान पर पर साफ दिख रहा है। आज जिलेभर में सिर्फ एक ही केंद्र (पुरानी कचहरी कटनी) में टीकाकरण होगा। माना जा रहा है कि टीके की कम उपलब्धता के कारण नियमित टीकाकरण नहीं हो पा रहा है।

तीन दिन पहले 14 जून को विजयराघवगढ़ स्थित शासकीय उत्कृष्ट माध्यमिक विद्यालय टीकाकरण केंद्र में कोविड-19 वैक्सीन का डोज दोपहर में ही खत्म हो गया। इस बीच इस टीकाकरण केंद्र में 50 से ज्यादा लोग टीका लगवाने के लिए दवा आने का इंतजार करते रहे, लेकिन दवा नहीं पहुंची। यहां कैमोर से पहुंचे युवाओं ने बताया कि कैमोर स्थित टीकाकरण केंद्र में दोपहर साढ़े 12 बजे के बाद ही टीका खत्म हो गया था। कैमोर से कुछ लोग टीका लगवाने विजयराघवगढ़ पहुंचे तो यहा भी टीके का डोज समाप्त होने के बाद टीका नहीं लगा।

टीका लगवाने पहुंचे युवाओं ने बताया कि गांव में कोविड-19 वैक्सीन लगवाने के लिए प्रतिदिन जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं, और केंद्र आने पर पता चलता है कि टीके का पर्याप्त डोज ही उपलब्ध नहीं है। सोमवार को जिलेभर में 30 से ज्यादा टीकाकरण केंद्रों में 5 हजार 916 लोगों को टीका लगा। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार टीके की यह संख्या लक्ष्य से सौ प्रतिशत से अधिक है। सोमवार को विजयराघवगढ़ में 283 और कैमोर में 375 लोगों को टीका लगा।

टीकाकरण के लिए जिलेभर में चलाए जा रहे जागरूकता अभियान का सकारात्मक परिणाम सामने आ रहा है। सोमवार को जिले में प्रथम और दूसरा डोज टीका लगवाने वालों की संख्या 2 लाख को पार कर गई। सोमवार शाम तक जिले में 2 लाख 4 हजार 743 लोग टीका लगवा चुके थे। इसमें प्रथम डोज लगवाने वालों की संख्या 1 लाख 81 हजार 851 और दूसरा डोज लगवाने वालों की संख्या 22 हजार 892 रही।