108 करोड़ की सीवर लाइन परियोजना में लापरवाही का एक नमूना यह भी

|

Updated: 02 Aug 2021, 11:14 PM IST

जिम्मेदारों की मनमानी और सीवर लाइन निर्माण के बाद सड़क निर्माण में गुणवत्ता अनदेखी बढ़ा रही नागरिकों की परेशानी.

कटनी. शहर में सीवर लाइन निर्माण के बाद सड़क निर्माण में गुणवत्ता अनदेखी से लेकर नागरिक सुविधाओं को ध्यान नहीं दिए जाने का असर अब दिखने लगा है। रविवार सुबह बसस्टैंड से पन्ना मोड के बीच मॉडल सड़क धस गया। वहीं रविंद्रनाथ टैगोर वार्ड क्रमांक 45 में आवाजाही का मुख्य मार्ग कीचड़ से सन गया। नागरिकों ने बताया कि यहां आवागमन के दौरान कई महिलाएं गिरकर चोटिल हो चुकी हैं। समस्या से कई बार नगर निगम के कर्मचारियों को अवगत कराया गया, लेकिन ध्यान नहीं दिये जाने से समस्या बनी हुई है।

बतादें कि शहर में सुव्यस्थित सीवर लाइन निर्माण के लिए 108 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट में लगातार मनमानी सामने आ रही है। खासबात यह है कि इस मामले में नगर निगम के अधिकारियों की कार्रवाई नोटिस तक सीमित रहने के कारण नागरिकों की परेशानी कम नहीं हो रही है। अब तक निर्माण के एवज मेें 35 करोड़ रुपए से ज्यादा राशि का भुगतान करने के बाद भी कहीं सड़क धस जा रही है, तो कहीं कीचड़ से नागरिकों का आवागमन मुश्किल हो गया है।

इस बारे में नगर निगम आयुक्त सत्येंद्र धाकरे बताते हैं कि पन्ना मोड़ मार्ग पर सड़क धसने और दूसरे स्थानों पर कीचड़ की समस्या की जानकारी मिली है। जरुरी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।