सिस्टम से लाचार ग्रामीणों का दर्द बयां करती तस्वीर देखिए...

|

Updated: 15 Jun 2021, 02:21 PM IST

ये तस्वीर किसी गांव की नहीं कटनी के नगर परिषद बरही की है। जहां 20 साल में नहीं बन सकी आधा किमी सडक़, मरीजों को चारपाई में उठाकर ले जाना पड़ता है।

कटनी. आजादी के कई दशक बाद भी अगर देश की जनता मूलभूत सुविधाओं के लिए तरसती रहे तो इसे किस तरह का विकास कहेंगे ? स्वर्णिम मध्य प्रदेश की एक तस्वीर यह भी है कि लोग सड़क के लिए दो दशक से इंतजार कर रहे हैं और बेरहम सिस्टम है कि बीस साल से सो रहा है।

must see: मसीहा बन कर पुलिस ने बचाई मरीज की जान

ताजा तस्वीर कटनी जिले के बरही नगर परिषद के वार्ड क्रमांक एक की है तहां सोमवार सुबह सामने आई इस तस्वीर को देखकर लगता है कि सरकारों के विकास के तमाम दावों के बीच यही हकीकत है। एक 70 साल बुजुर्ग का पैर टूटने के बाद जिला अस्पताल से इलाज करवाकर घर लौटे तो एक बार फिर 20 वर्षों से चली आ रही समस्या का सामना करना पड़ा। घर तक पहुंचने के लिए करीब आधा किलोमीटर सडक़ नहीं होने के कारण मोहल्ले के लोग बुजुर्ग को ऑटो से उतारकर चारपाई में उठाकर घर पहुंचे।

must see: ड्राइविंग लाइसेंस के लिए 'स्कूल' में होना पडेगा भर्ती

स्थानीय लोगों ने बताया कि इस सड़क के लिए 50 परिवार के 130 से ज्यादा सदस्य दो दशक से ज्यादा समय से सड़क की बाट जोह रहे हैं, लेकिन जिम्मेदारों की कुभकरणी नीद बीस साल में भी नहीं टूटी और लोग आज भी परेशान हो रहे हैं।

must see: बगैर सुविधाओं के कोविड यूनिट को शिफ्ट करने की तैयारी

नहीं पहुंचती एंबुलेंस व अन्य परिवहन के साधन
रामप्रसाद, गंगा प्रसाद चौधरी, बाबूलाल, रामसुमेर, मुकेश चौधरी व राजेश चौधरी सहित अन्य ने बताया कि वे लोग डोली रोड के किनारे महापात्र की तलैया के पीछे बसे हैं। सडक़ नहीं होने के कारण प्रसव व अन्य इमरजेंसी में मरीज को आधा किलोमीटर दूर एंबुंलेस व दूसरे वाहनों तक ले जाना मुश्किल हो जाता है। रहवासियों ने बताया कि सडक़ और दूसरी मूलभूत समस्याओं से स्थानीय विधायक संजय पाठक को भी अवगत करा चुके हैं।

Must see: रेलवे स्टेशन में धूल खा रहे करोड़ों के सोलर पैनल

एसडीएम विजयराघवगढ एवं प्रशासक नगर परिषद बरही, प्रिया चंद्रावत ने बताया कि बरही नगर परिषद के वार्ड क्रमांक एक के यादव एवं चौधरी मोहल्ला के रहवासियों की सडक़ की समस्या पहले भी सामने आई है। सडक़ निर्माण में निजी जमीन बाधा आ रही है। कोशिश है कि जल्द समस्या दूर की जाए।

Must see: मध्य प्रदेश में कोरोना से राहत, यहां देखें ताजा आंकड़े