हादसे के बाद भी नहीं चेते जिम्मेदार, ऑटो में ढोई जा रही ओवरलोड सवारी, लोडर में भी बैठाए जा रहे लोग

|

Published: 11 Jul 2020, 11:23 AM IST

बुधवार को ढीमरखेड़ा क्षेत्र के खमतरा में रोंगटे खड़े कर देने वाला हादसा सामने आया। ट्रक और ऑटो की भिड़ंत में 6 लोग मौके पर काल-कलवित हो गए। इस हाइसे में ट्रक चालक की दानवी गति तो सामने आई ही, लेकिन एक बेपरवाही ओवरलोडिंग की भी सामने आई। ऑटोरिक्शा में क्षमता से अधिक सवारी बैठाई गई।

Auto overloading

कटनी. बुधवार को ढीमरखेड़ा क्षेत्र के खमतरा में रोंगटे खड़े कर देने वाला हादसा सामने आया। ट्रक और ऑटो की भिड़ंत में 6 लोग मौके पर काल-कलवित हो गए। इस हाइसे में ट्रक चालक की दानवी गति तो सामने आई ही, लेकिन एक बेपरवाही ओवरलोडिंग की भी सामने आई। ऑटोरिक्शा में क्षमता से अधिक सवारी बैठाई गई। वैश्विक महामारी के चलते बस आदि साधन न चलने से ग्रामीणों की मजबूरी है कि वे ऑटो, लोडर में सफर जान जोखिम में डालकर कर रहे हैं। हैरानी की बात तो यह है शहर से लेकर गांव तक बेपरवाही का आलम जारी है, लेकिन पुलिस प्रशासन का इस ओर कोई ध्यान नहीं है। यदा-कदा चालानी कार्रवाई का कोरम तो पूरा कर लिया जा रहा है, लेकिन हादसों पर लगाम लगाने कोई पहल नहीं हो रही। सड़क हादसों को रोकने के लिए सिर्फ सड़क सुरक्षा सप्ताह सहित बैठकों में मंथन की औपचारिकता तक सीमित रहता है। गुरुवार को शहर में बेधड़कर ओवरलोड ऑटो दौड़ते रहे। हैरानी की बात तो यह है कि वाहनों की गति कंट्रोल के लिए जिम्मेदारों द्वारा कोई पहल नहीं की जा रही। सरपट वाहन दौड़ रहे हैं। हादसे हो रहे हैं और सड़कें खूनी बनती जा रही हैं। कोरोना के कारण बसें आदि न चलने से भी समस्या है। ग्रामीणों की भी मजबूरी है।

वाहन चालकों की नहीं होती जांच
शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र के थानों में वाहनों की जांच के लिए नाका बनाए गए हैं। पुलिस वहां पर तैनात भी रहती है वह भी सिर्फ चालानी कार्रवाई के लिए। वाहन चालक नशे की हालत में है या नहीं, उसे छोटे वाहन से लेकर बड़े वाहन चलाने का अनुभव है कि नहीं, योग्यता है कि नहीं कुछ भी नहीं देखा जा रहा। आइ ब्रीथ एनालाइजर मशीन का भी कहीं पर उपयोग नहीं किया जाता। शराब, स्मैक, गांजा के नशे में वाहन चालक अंधाधुंध भाग रहे हैं, लेकिन जांच व कार्रवाई कहीं पर होती नहीं दिखती। बड़े-बड़े वाहन राहगीर, बाइक सवार, ऑटो आदि को रौंदकर लोगों को मौत के घाट उतार दे रहे हैं और जिम्मेदार इन्हें रोकने कोई ठोस पहल नहीं कर रहे। पुलिस, परिवहन विभाग, जिला प्रशासन बेपरवाह बना हुआ है।

इनका कहना है
लगातार कार्रवाई जारी है। अभियान चलाकर और कार्रवाई करेंगे। सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिए गए हैं। वाहन चालकों द्वारा कहीं पर नियमों की अनदेखी पाई जाती है तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।
ललित शाक्यवार, एसपी।