शिवपाल यादव बोले सीएम बनने की ख्वाहिश नहीं, परिवार एकजुट होने की जताई इच्छा

|

Published: 27 Mar 2021, 01:35 PM IST

उन्होंने समाजवादियों के एकजुट करने के प्रयास में लगे होने की बात कही। बोले कि पहले भी एकजुटता के लिए प्रयास कर चुके हैं और फिर प्रयास में जुटे हैं।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. जसवंत नगर के आगरा रोड पर एक शुक्रवार को कार्यकर्ता सम्मेलन को प्रसपा (Praspa) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव (Prasapa Shivpal Singh Yadav) ने संबोधित किया। उन्होंने यहां भतीजे अंशुल यादव को फिर से जिला पंचायत अध्यक्ष (Jila Panchayat Adhyaksh) बनाने का आह्वान किया है। इस दौरान उन्होंने समाजवादियों के एकजुट करने के प्रयास में लगे होने की बात कही। बोले कि पहले भी एकजुटता के लिए प्रयास कर चुके हैं और फिर प्रयास में जुटे हैं। हालांकि कुछ ऐसे लोग हैं जो पहले भी षड्यंत्र करते रहे हैं और आज भी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें सीएम नही बनना है। इस बीच उन्होंने परिवार में चल रही किरकिरी को खत्म कर सुलह की बात कही।

वहीं उन्होंने प्रदेश सरकार पर तीखे प्रहार किए। बोले (Shivpal Singh Yadav) कि सरकार द्वारा आलू खरीदने के लिए केंद्र क्यों नही खोले गए। सरकार की एमएसपी देने की योजना कहां है। इस दौरान पूर्व सांसद रघुराज सिंह शाक्य, ब्लॉक प्रमुख अनुज मोंटी यादव , प्रसपा जिलाध्यक्ष सुनील यादव, कृष्ण मुरारी गुप्ता, राहुल गुप्ता, नारायण सिंह यादव आदि रहे। दरअसल 2017 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी का पारिवारिक झगड़ा शुरु हुआ था। चुनाव में समाजवादी पार्टी को हार मिलने के बाद झगड़े के हालात और भी बिगड़गाए थे। जिसके बाद अखिलेश यादव ने चाचा शिवपाल यादव के पांच करीबी नेताओं को पार्टी से निकाल दिया था। उसके बाद शिवपाल यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की स्थापना की थी।