Latest News in Hindi

अखिलेश यादव इस रैली से करेंगे बीजेपी पर हल्ला बोल, इसके लिए बुलाया गया उनका ये लकी पर्सन

By Arvind Kumar Verma

Sep, 12 2018 05:13:08 (IST)

सितम्बर माह में अखिलेश यादव द्वारा एक साइकिल रैली के द्वारा भाजपा की नीतियों पर हल्ला बोला जायेगा। इसके लिये उन्होने इस लकी पर्सन को आमंत्रित किया है, जो रैली को हरी झंडी देकर रवाना करेगे।

कानपुर देहात-केंद्र की कुर्सी पर सत्तासीन बीजेपी सरकार की योजनाओं की पोल खोलने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव साइकिल यात्रा निकाल रहे हैं। इसके माध्यम से वह लोगों को सरकार की नीतियों का खुला चिट्ठा सुनाएंगे। उनकी इस रैली को हरी झंडी दिखाने के लिए उन्होंने चहेते खजांची को चुना गया हैं। ये साइकिल रैली कन्नौज के ठठिया से शुरू होगी। दरअसल लोकसभा चुनाव को देखते हुए कन्नौज से सांसद रहे अखिलेश यादव के इस बार लोकसभा चुनाव 2019 में भी कन्नौज से चुनाव लड़ने की भी चर्चा जोरों पर है। इसलिए लोग अनुमान लगा रहे हैं कि ये यात्रा कन्नौज से शुरू की जा रही है, जो लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे से होते हुए मरहमताबाद हवाई पट्टी पर समाप्त होगी।

 

अखिलेश की रैली को खजांची देगा झंडी

ये हवाई पट्टी अखिलेश यादव ने अपने कार्यकाल में बनवाई थी, जो उनके ड्रीम प्रोजेक्ट का एक हिस्सा रही है। अखिलेश की इस 50 किलोमीटर साइकिल यात्रा को रवाना करने के लिए उन्होंने स्वयं झींझक के अनंतपुर धौकल रहने वाले दो साल के खजांची नाथ को चुना है। दरअसल खजांची नाथ को अखिलेश अपने लिए लकी मानते हैं। इसलिए उन्होंने खजांची नाथ को आमंत्रित किया है। जिसके माध्यम से वे केंद्र सरकार की नोटबन्दी, आवास सहित तमाम योजनाओं का बखान करेंगे। बता दें कि खजांची नाथ का जन्म नोटबन्दी के दौरान नवंबर 2016 में जनपद कानपुर देहात की झींझक पंजाब नैशनल बैंक में हुआ था। सुर्खियों में आने के बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उस बच्चे व उसकी मां सर्वेसा देवी को लखनऊ बुलाकर आर्थिक मदद करते हुए उसका नाम खजांची नाथ रख दिया था। बाद में जन्मदिन की तिथि पर उसे सैफई बुलाया गया था।

 

सपा जिलाध्यक्ष बोले अभी तिथि निश्चित नही है

देखा जाए तो आज खजांची और उसकी मां झोपड़ी में गुजारा कर रही है। आज भी समय समय पर अखिलेश की जुबां पर खजांची का नाम सुना जाता रहा है। बताया गया कि अब इस रैली को लेकर उन्होंने खजांची को अतिथि के रूप में बुलाया है, जो अखिलेश की रैली को सफल बनाएगा। इस रैली के दरमियान अखिलेश पचास किलोमीटर साइकिल चलाएंगे और बीजेपी सरकार की कथनी करनी को उजागर करेंगे। वही अनंतपुर धौकल के पूर्व प्रधान एवं सपा नेता सर्वेश सिंह उर्फ नीरू ने बताया कि अखिलेश यादव गरीबों के मसीहा हैं, उन्होंने एक गरीब एवं सपेरे प्रजाति में जन्मे खजांची को हरी झंडी देने के लिए बुलाया है।

कानपुर देहात के सपा जिलाध्यक्ष समरथ पाल ने बताया कि पहले यह रैली 16 सितंबर को थी। इसके बाद तिथि बढ़ाकर 19 सितंबर कर दी गयी थी लेकिन अभी कोई निश्चित तिथि नही कही जा सकती है। जब तक हाईकमान या प्रदेश कार्यालय से कोई जानकारी नही मिलती है।