Latest News in Hindi

जानिए क्या हैं आईपीएस सुरेंद्र कुमार दास और मुकेश पांडे की मौत की 5 कॉमन बातें

By Mahendra Pratap

Sep, 12 2018 03:46:06 (IST)

आईपीएस सुरेंद्र कुमार दास और मुकेश पांडे की मौत के मामले में 5 कॉमन बातें सामने आई है। जिसे जानकर आप भी चौंक जाएंगे।

 

लखनऊ. आईपीएस सुरेंद्र कुमार दास और पिछले साल आईएएस मुकेश पांडेय की हुई मौत के मामले में 5 बातें मिलती जुलती सामने आई हैं। अगर आप आईपीएस सुरेंद्र कुमार दास और आईएएस मुकेश पांडेय की आत्महत्या के मामले की 5 कॉमन बातें जानना चाहते हैं। तो सबसे पहले आईपीएस सुरेंद्र कुमार दास के बारे में बात करते हैं। यूपी के कानपुर में तैनात आईपीएस सुरेंद्र कुमार दास की रविवार को दोपहर के समय अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। वह 5 दिनों तक मौत का सामना करते रहे लेकिन 5 से ज्यादा दिनों तक मौत का सामना नहीं कर पाए।

आईएएस मुकेश पांडेय के बारे में

अब पिछले साल आईएएस मुकेश पांडेय की हुई मौत के बारें में बताते हैं। मुकेश पांडे बिहार के बक्सर जिले के डीएम पद पर तैनात थे। मुकेश पांडे ने पिछले साल 10 अगस्त 2017 की शाम को ने यूपी के गाजियाबाद में कोटगांव के पास रेलवे लाइन पर ट्रेन से कटकर आत्महत्या की थी। बताया जाता है कि मुकेश पांडे 10 अगस्त 2017 को लापता हुए थे। जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट उनके ससुर ने दिल्ली के सरोजिनी नगर थाने में की थी। जैसे ही गाजियाबाद में जीआरपी एसआई ने मुकेश पांडे के शव को रेलवे ट्रैक पर पड़ा देखा और तो तुरंत रेलवे अधिकारियों को सूचना दी गई थी।

आईपीएस सुरेंद्र कुमार दास और मुकेश पांडे की मौत के मामले में ये है 5 कॉमन बातें

1. आईपीएस सुरेंद्र कुमार दास की मौत के मामले में दो पत्र मिलने की बात सामने आई है। वहीं मुकेश पांडे की मौत के मामले में भी पुलिस ने दो सुसाइड नोट घटना स्थल से बरामद किए थे।
2. आईपीएस सुरेंद्र कुमार दास और मुकेश पांडे की मौत के मामले में घरेलू कलह की वजह से जान देने की बात सामने आई।
3. दोनों मामले आत्महत्या से जुड़े हुए हैं।
4. दोनों मामलों में किसी को भी मौत का जिम्मदार नहीं ठहराया है।
5. दोनों मामलों में पत्र में लिखी गई प्यार की बातें भी सामने आई हैं।

दोनों की मौत मामले में यह बात सामने आई है कि आईपीएस सुरेंद्र कुमार दास ने पारिवारिक कलह के चलते यह कदम उठाया और नहीं बताया जाता है कि मुकेश पांडे ने भी पारिवारिक कलह के चलते यह कदम उठाया था। आईपीएस सुरेंद्र कुमार दास और मुकेश पांडे दोनों लोग शांति पूर्वक जीवन बीताने वाले इंसान थे, लेकिन परिवार के झगड़ों ने दोनों को इस कदर तोड़ दिया कि दोनों को सुसाइड के अलावा कोई रास्ता नहीं दिख रहा था।