अब रीट की चुनौती, एक लाख से अधिक परीक्षार्थी होंगे शामिल

|

Published: 17 Sep 2021, 02:04 AM IST

- जिले में 186 परीक्षा केन्द्रों पर तैनात रहेंगे पुलिस, आरएसी व होमगार्ड के जवान
- यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने की होगी चुनौती

जोधपुर.
पुलिस उप निरीक्षक व प्लाटून कमाण्डर भर्ती के लिए लिखित परीक्षा के बाद पुलिस व प्रशासन के सामने अब रीट परीक्षा करवाने की चुनौती है। 26 सितम्बर को होने वाली रीट परीक्षा में अकेले जोधपुर जिले में एक लाख से अधिक अभ्यर्थियों के शामिल होने की संभावना है। ऐसे में पुलिस व प्रशासन के सामने न सिर्फ परीक्षा बल्कि परिवहन व यातायात के साथ अन्य व्यवस्थाएं करने की चुनौती है।
पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय व यातायात) राजेश कुमार मीना ने बताया कि रीट परीक्षा में अकेले जोधपुर जिले में एक लाख से अधिक अभ्यर्थियों के शामिल होने की संभावना है। चूंकि जोधपुर मध्य में स्थित इसलिए बड़ी संख्या में अभ्यर्थी परीक्षा देने के लिए जोधपुर से होकर निकलेंगे। ऐसे में इनके लिए परिवहन और अन्य सुविधाएं मुहैया कराना चुनौती होगी। इन सभी की व्यवस्था करने और अभ्यर्थियों के साथ-साथ आमजन को परेशानी से बचाने के लिए पुलिस अधिकारियों की बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिग भी हुई। जिसमें विभिन्न उपायों पर चर्चा की गई।

परीक्षा के लिए जोधपुर में 186 सेंटर बनाए गए हैं। सुरक्षा के लिए पुलिस के साथ आरएसी व होमगार्ड के जवान भी तैनात किए जाएंगे। अभ्यर्थियों में बड़ी तादाद में महिलाएं भी होंगी। ऐसे में परीक्षा केन्द्रों पर महिला पुलिसकर्मी भी तैनात की जाएगी।