हत्यारों में जोधपुर के आठ, बाड़मेर के दो व पाली का एक बदमाश शामिल

|

Published: 15 Apr 2021, 02:16 PM IST

- भीलवाड़ा में तस्करों का पीछा करने पर दो कांस्टेबल की हत्या प्रकरण
- एसओजी के साथ जोधपुर व भीलवाड़ा पुलिस हत्यारों की तलाश में जुटी, आरोपियों के करीबी हिरासत में

जोधपुर.
भीलवाड़ा में दो कांस्टेबल की हत्या करने में शामिल मादक पदार्थ तस्कर मारवाड़ के ही हैं। इनमें आठ जने जोधपुर, दो बाड़मेर व एक युवक पाली जिले का बताया जाता है। इनकी धरपकड़ के लिए राज्य के पुलिस महानिदेशक एमएल लाठर के निर्देशन में एसओजी, भीलवाड़ा व जोधपुर पुलिस को लगाया गया है। जोधपुर व आस-पास के ग्रामीण इलाकों में मंगलवार मध्यरात्रि फिर छापेमारी कर आरोपियों के परिजन व करीबियों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया।
11 नामजद आरोपी घरों से गायब, परिजन पर दबाव

भीलवाड़ा पुलिस ने कांस्टेबल ऊंकार रायका व पवन चौधरी के हत्या में शामिल 11 बदमाशों को नामजद किया है। इनमें डांगियावास के पास मतवालों की ढाणी, डोली, पाली में शिवपुरा के भाणिया गांव, पीपाड़ शहर थानान्तर्गत कूड़ गांव के दो युवक, बाड़मेर, भोपालगढ़ में नांदिया, लाम्बा और बिलाड़ा के पास केरियों की ढाणी के युवक शामिल हैं। आरोपियों में कूड़ गांव का एक युवक पैरोल से फरार बताया जाता है।

अफीम की बड़ी खेप लेकर लौट रहे थे मारवाड़
जोधपुर, बाड़मेर व पाली के मादक पदार्थ तस्करों की गैंग गत दिनों मादक पदार्थ लेने मेवाड़ व मध्यप्रदेश गई थी। अफीम के दूध की बड़ी खेप लेकर सभी दस अप्रेल की रात एक एसयूवी व दो कारों में लौट रहे थे। भीलवाड़ा में पुलिस के पीछा करने पर देसी एके-47 से फायरिंग कर दोनों कांस्टेबल की हत्या कर भाग गए थे।

कई और ठिकानों पर दबिशें, हत्यारे फरार
हत्यारों की धरपकड़ के लिए भीलवाड़ा पुलिस के साथ ही जोधपुर और एसओजी को भी जिम्मा सौंपा गया है। तस्करों के कुछ और ठिकानों पर मंगलवार मध्यरात्रि दबिशें दी गईं। नामजद आरोपी तो पकड़ में नहीं आए, लेकिन इनके करीबियों व परिजन को हिरासत में लिया गया। समर्पण कराने के लिए परिजन के मार्फत आरोपियों पर दबाव डाला जा रहा है।