Latest News in Hindi

भाई को ढूंढते पहुंचा कबाड़ी के घर, अंदर से आई गोली चलने की आवाज और दरवाजा खुला तो उड़ गए होश

By BK Gupta

Sep, 12 2018 01:23:44 (IST)

भाई को ढूंढते पहुंचा कबाड़ी के घर, अंदर से आई गोली चलने की आवाज और दरवाजा खुला तो उड़ गए होश

झांसी। कबाड़ी के यहां अपने पैसे लेने गया एक युवक जब काफी देर तक नहीं लौटा तो उसका भाई कबाड़ी के घर पहुंचा। वहां घर के अंदर से तेज-तेज आवाजें आ रही थीं। तभी उसने दरवाजा खटखटाया, तो अचानक ही गोली चलने की आवाज आई। घर का दरवाजा खोलकर देखा, तो वहां पर उसका भाई लहूलुहान पड़ा था। इस मामले में पुलिस ने दो युवकों को अरेस्ट करते हुए तो दिन पहले हुए हत्याकांड का खुलासा कर दिया है।
ये था मामला
प्रेमनगर थाना क्षेत्र के मुहल्ला हरदौल के रहने वाले पूरन लाल अहिरवार ने पुलिस को सूचना दी थी कि उसका करीब 24 वर्षीय भाई जितेंद्र अहिरवार संजय कुमार सिंह उर्फ राजू ठाकुर के यहां पर कबाड़ की दुकान पर बेचे गए कबाड़ के पैसे लेने गया था। काफी देर तक उसके वापस नहीं आने पर वह अपने पड़ोसी के साथ भाई को देखने राजू ठाकुर के बाड़ा मुहल्ला कृष्णानगर गया। तब तक रात में करीब साढ़े आठ बज चुके थे। तभी अंदर से काफी तेज आवाजें आनी शुरू हुईं। उसे दरवाजा खटखटाया तो कृपाल सिंह ने कहा कि राजू भाई रोजृरोज का झगड़ा खत्म कर दो। गोली मार दो। इसके बाद राजू ठाकुर ने उसके भाई को गोली मार दी, जिससे वह गिर गया। घटना को देखकर अपने साथी के साथ मुहल्ला में आया। मुहल्ले व घर वालों को घटना के बारे में बताया। सब लोग मौके पर पहुंचे। वहां उसका भाई मृत अवस्था में पड़ा था। पूरन की लिखित सूचना के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया था।
दोनों आरोपी गिरफ्तार
इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार के निर्देश व पुलिस अधीक्षक नगर के निर्देशन में आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित की गईं। इस पर पुलिस ने संजय कुमार सिंह उर्फ राजू ठाकुर और कृपाल सिंह चौहान को गिरफ्तार कर लिया है।
ये है आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम
इस मामले में दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में प्रेमनगर थाना प्रभारी निरीक्षक हरि श्याम सिंह, उपनिरीक्षक तेज बहादुर सिंह, उपनिरीक्षक राजकुमार, उपनिरीक्षक चंद्रशेखर, कांस्टेबल छत्रपाल व कांस्टेबल कृष्णकांत शामिल रहे। अरेस्ट किए गए आरोपियों के पास से 315 बोर का एक तमंचा व कारतूस बरामद किए गए। ये तमंचा संजय कुमार सिंह उर्फ राजू ठाकुर की निशानदेही पर बरामद किया गया।