एक अभिनव पहल, अब यहां उद्योग स्थापित करने को नहीं लगाने पड़ेंगे विभागों के चक्कर

|

Published: 22 Oct 2018, 11:19 PM IST

एक अभिनव पहल, अब यहां उद्योग स्थापित करने को नहीं लगाने पड़ेंगे विभागों के चक्कर

झांसी। मंडलायुक्त श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्तव ने कहा कि एक अभिनव पहल के तहत अब बुंदेलखंड में उद्योग सृजन आसान हो गया है। घर बैठे ही उद्योग स्थापित करने की सारी व्यवस्थाएं की गई हैं। अब उद्यमियों को नहीं लगाने होंगे विभागों के चक्कर। ऑनलाइन प्रक्रिया से ही उद्योग हेतु स्वीकृति और लाइसेंस प्राप्त कर सकेंगे उद्यमी। वह यहां विकास भवन के सभागार में आयोजित कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुए बोल रही थीं।
जटिल समस्या न हो
मंडलायुक्त श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश सरकार बुंदेलखंड में उद्योग स्थापित करने हेतु कृत संकल्पित है। उद्योग सृजन में उद्यमियों को कोई जटिल समस्या न हो। उन्हें विभागों में एनओसी व फार्म भरने के लिए चक्कर न लगाने पड़ें। उसके लिए निवेश मित्र पोर्टल शासन द्वारा तैयार किया गया है। इस ऑनलाइन पोर्टल में उद्यमियों से संबंधित लगभग बीस विभागों की 70 सेवाएं ऑनलाइन हैं। उन्होंने कहा कि आनलाइन आवेदन करने व फीस जमा करने की सारी व्यवस्थाएं हैं। उद्यमियों को इस योजना का लाभ उठाने और उद्योग स्थापित कर क्षेत्र का विकास करने को आगे आना चाहिए।
मुख्यमंत्री हेल्प लाइन से होगी मानीटरिंग
इस अवसर पर मित्र निवेश सलाहकार अभिनव कुशवाहा ने बताया कि उद्यमियों द्वारा किए गए आवेदन की मुख्यमंत्री हेल्पलाइन द्वारा मानीटरिंग की जाएगी। उन्होंने बताया कि सभी सत्तर सेवाओं के लिए जनहित गारंटी अधिनियम के तहत समय निर्धारित है। उसी समय अवधि में विभागों को कार्यवाही पूर्ण करनी होगी। उऩ्होंने कहा कि उद्यमी उद्योग स्थापित करने हेतु 20 विभागों से ऑनलाइन स्वीकृतियां, एनओसी व लाइसेंस प्राप्त कर सकेंगे।
ये लोग रहे उपस्थित
इस अवसर पर जिलाधिकारी शिवसहाय अवस्थी, सीडीओ निखिल टी फुंडे, एसडीएम अनुन्य झा, उपायुक्त उद्योग सुधीर कुमार श्रीवास्तव, हरिओम बंसल, संजय पटवारी, दिलीप कुमार अग्रवाल, मनमोहन गेड़ा, लखनऊ से आए निदेशक आईटी उद्योग बंधु लखनऊ पंकज अरोरा आदि उपस्थित रहे। बाद में सभी के प्रति आभार व्यक्त किया गया।