चांपा में फंसे गिरिडीह जिले के 14 कामगारों का प्रशासन ने जाना हाल, 50 किलो चावल के साथ दिए गए ये सामान

|

Published: 30 Mar 2020, 11:39 AM IST

Lockdown: कोविड-19 के कारण लाकडाऊन से छत्तीसगढ़ सहित अन्य राज्यों के प्रभावितों की प्रशासन द्वारा की जा रही मदद

जांजगीर-चांपा. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने शहर लॉकडाउन है। यहां बाहर से आए ग्रामीण अब अपने गांव लौट नहीं पा रहे हैं। प्रशासन द्वारा ऐसे ग्रामीणों के लिए राशन की व्यवस्था की गई है। इसी तारतम्य में झारखंड राज्य के ग्रामीणों को चांपा में फंसे 14 कामगारों के भोजन के लिए राशन की व्यवस्था कराई गई है।

कामगारों को 50 किलोग्राम चावल, 20 किलो ग्राम आलू, 3 लीटर तेल, 5 किलो प्याज, 5 किलो दाल, आधा किलो धनिया, आधा किलो हल्दी, शक्कर 5 किलो, नमक, चाय पत्ती आदि प्रदान की गई।
Read More: रोजी-रोटी के लिए बाहर कमाने गए छह मजदूर ट्रक पर सवार होकर लौट रहे थे गांव, हाटी मार्ग पर निरीक्षण दल ने रोका

झारखंड के इन फंसे हुए कामगारों की मौके पर जाकर जांच की गई । जांच में पाया गया कि वे सभी झारखंड राज्य के गिरिडीह जिले के हैं। वे वर्तमान में तहसील रोड शंकरनगर चांपा में निवासरत पाए गए। कामगारों से चर्चा से मिली जानकारी के अनुसार उन्हें निवास से संबंधित कोई समस्या नहीं है। वे अभी जिस मकान में रह रहे हैं उनके मकान मालिक द्वारा मकान का किराया लेने उन्हें समय दिया गया है। उन्हें भोजन की आवश्यकता के मद्देनजर चाम्पा एसडीएम बजरंग दुबे द्वारा राशन उपलब्ध कराया गया है