सांचौर में खाली भूखंड में गिरा उल्कापिंड, क्षेत्र में फैली दहशत, खगोल विज्ञान टीम करेगी जांच

|

Published: 19 Jun 2020, 06:24 PM IST

शहर में बड़सम बाइपास पुलिया के पास आवासीय कॉलोनी के खाली भूंखड में शुक्रवार को एक काले रंग की चमकीली वस्तु मिलने से क्षेत्र में दहशत फैल गई। प्रथम दृष्टया इसे उल्का पिंड बताया जा रहा है।

सांचौर। शहर में बड़सम बाइपास पुलिया के पास आवासीय कॉलोनी के खाली भूंखड में शुक्रवार को एक काले रंग की चमकीली वस्तु मिलने से क्षेत्र में दहशत फैल गई। प्रथम दृष्टया इसे उल्का पिंड बताया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार शुक्रवार सवेरे करीब 6.15 बजे आसमान से तेज धमाके के साथ चमकीली वस्तु जमीन पर आकर गिरी। इस दौरान आस-पास से बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गए। सूचना पर एसडीएम भूपेंद्र यादव, डीएसपी विरेन्द्रसिंह, थानाधिकारी अरविन्द पुरोहित ने भी मौका स्थल पर पहुंचकर आसमान से गिरी वस्तु का जायजा लिया। साथ ही मामले की जांच के लिए मौका स्थल से ही अधिकारियों ने कलक्टर को अवगत करवाया। साथ ही सुरक्षा की दृष्टि से इस क्षेत्र को सील कर दिया गया।

दो घंटे बाद लिया कब्जे में
पहले स्तर पर आकाश से गिरी इस अज्ञात वस्तु को पुलिस ने करीब 9.30 बजे पुलिस ने अपने कब्जे में लिया। उसे प्लास्टिक के डिब्बे में पैक कर जांच के लिए पुलिस थाने में रखवा दिया। जिसकी स्थानीय निजी लेब में जांच करवाने पर 10.23 नीकेल, 85.86 लोहा, प्लेटिनियम 0.05, कोबिट 0.78 गेरमानिम 0.02, एन्टीमोनी 0.01, नीओबिम 0.01, अन्य 3.02 प्रतिशत की मात्रा पाई गई है।

ऐसे में प्रशासन ने उक्त वस्तु को प्रथम दृष्टया उल्कापिंड का टुकड़ा मानते हुए खगोल विज्ञान जांच के लिए भेजने का निर्णय लिया। वस्तु की जांच के लिए जोधपुर से एक टीम सांचौर आएगी। सांचौर थाना प्रभारी अरविन्द राजपुरोहित ने बताया कि आकाश से गिरी इस वस्तु का वजन 2 किलो 788 ग्राम है।

आबादी क्षेत्र में गिरता तो हो सकता था हादसा
उल्कापिंड रूपी गिरी वस्तु अगर अगर आबादी क्षेत्र के किसी मकान पर गिरती तो बड़ा हादसा हो सकता था। जान माल का नुकसान हो सकता था। आकाश गिरी उल्कापिंड रूपी वस्तु के नीचे गिरने के दौरान फाइटर विमान जैसी तेज आवाज करीब डेढ़ किमी के क्षेेत्र में सुनी गई। इस दौरान सूचना के बाद मौका स्थल पर लोगो की भार भीड़ जमा हो गई।

इनका कहना
प्रथम दृष्टया उल्कापिंड का टुकड़ा लग रहा है। जिसे सील कर सुरक्षित रख लिया गया है। इस वस्तु की जांच खगोल विज्ञान की टीम द्वारा की जाएगी।
- भूपेन्द्र यादव, एसडीएम, सांचौर