राजस्थान दिवस पर लोक कलाकारों ने बांधा समां

|

Published: 01 Apr 2021, 10:59 AM IST

पर्यटन विभाग एवं जिला प्रशासन के तत्वावधान में राजस्थान दिवस पर मंगलवार को होटल विजय पैराडाइज में सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया। जिसमें लोक कलाकारों ने रंगारंग कार्यक्रम से समां बांधा

राजस्थान दिवस पर लोक कलाकारों ने बांधा समां

जालोर. पर्यटन विभाग एवं जिला प्रशासन के तत्वावधान में राजस्थान दिवस पर मंगलवार को होटल विजय पैराडाइज में सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया। जिसमें लोक कलाकारों ने रंगारंग कार्यक्रम से समां बांधा। कार्यक्रम समिति के संयोजक एसडीएम चंपालाल जीनगर ने बताया कि एडीएम छगनलाल गोयल के मुख्य आतिथ्य में सांस्कृतिक संपन्न हुई। जिसमें लोक कलाकारों ने रंगारंग प्रस्तुति देकर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। सांस्कृतिक संध्या की शुरूआत गंगादेवी एंड पार्टी ने बाबा रामदेव के भजन ‘हेलो मारो सांभळो...’ पर तेरहताली नृत्य से की। पार्टी ने चरी नृत्य व घूमर की प्रस्तुति देकर दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया। इस दौरान बाड़मेर के पुष्कर प्रदीप व जानकी गोस्वामी की टीम ने अपने मधुर गीतों की प्रस्तुति दी। वहीं उनकी टीम के साथियों की नृत्य पेश कर कार्यक्रम में चार चांद लगाए। उन्होंने कन्हैयालाल सेठिया के गीत ‘धरती धोरां री...’ से प्रस्तुति देकर कार्यक्रम में राजस्थाान की धरती की मिठास घोल दी। इसके बाद उन्होंने ‘होळियां में उड़े रे गुलाल...’ और ‘एक बार आओ नी जवांई जी पावणा...’ गीतों पर प्रस्तुति देकर पूरे पांडाल को फागुन की मस्ती से सराबोर कर दिया। कार्यक्रम में सांस्कृतिक संध्या के समन्वयक मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी अशोककुमार रोईसवाल, जिला शिक्षा अधिकारी मोहनलाल मेघवाल, डीटीओ प्रेमराज खन्ना, पर्यटन विभाग के सहायक निदेशक भैरूसिंह चौहान, नूर मोहम्मद, विनीता ओझा, निशा कुट्टी, सपना बजाज, कविता तिवारी व मधु शर्मा समेत कई जने मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन अनिल शर्मा व आरजे ज्योति ने किया।
संगोष्ठी व स्नेहमिलन समारोह आयोजित
सांचौर. रोटरी क्लब सांचौर की ओर से राजस्थान स्थापना दिवस पर संगोष्ठी व होली स्नेहमिलन कार्यक्रम का आयोजन क्लब अध्यक्ष महावीरसिंह के दांतिया गांव स्थित फार्म हाऊस पर मंगलवार शाम को आयोजित किया गया। जिसमें क्लब के सदस्य, स्थानीय साहित्यकार व ग्रामीणों ने भाग लिया। सचिव महेन्द्रसिंह राव ने बताया कि इस दौरान स्थानीय कवि दलपतसिंह कारोला ने राजस्थानी संस्कृति पर स्वरचित काव्य पाठ कर श्रोताओं का मन मोहा। डभाल निवासी मीठेखां मीर ने राजस्थान व जालोर पर रचना प्रस्तुत की। क्लब सदस्य भरत दवे, गुलाब कुमावत व वींजाराम समेत अन्य ने भी समाजसेवा, राजस्थान और स्थानीय क्षेत्र का विवेचन प्रस्तुत कर श्रोताओं का ध्यान आकर्षित किया। साथ ही क्लब सदस्यों ने सामाजिक सरोकार से संबंधित कार्यों पर विचार विमर्श किया। इसी तरह क्लब की ओर से प्रयोजित आगामी कार्यक्रमों पर अध्यक्ष ने जानकारी देकर सभी के सहयोग के लिए आभार जताया। राव ने बताया कि इस दौरान रोटरी क्लब शाखा हाड़ेचा अध्यक्ष भैरसिंह राजपूत, बजरंग वैष्णव, व्यवसायी अशोक राठी, बावरला सरपंच रायसिंगराम चौधरी, पतंजलि योग प्रभारी गणपत दवे, एडवोकेट रामनिवास नाबरिया, उद्यमी भगराज देवासी, चितलवाना विकास समिति सचिव नखतमल एन माहेश्वरी, गायक सिकंदर खां, व्यवसायी संजय बोथरा, सुनील गोदारा व नगसिंह दांतिया समेत कई जने मौजूद रहे।