सांचौर: बोरवेल में गिरा 4 साल का मासूम, बचाव में जुटा दल, पानी और ऑक्सीजन पहुंचाई

|

Updated: 06 May 2021, 05:07 PM IST

जालोर जिले के सांचौर क्षेत्र के लाछड़ी गांव में खुले बोरवेल में गिरे चार वर्षीय बालक को बचाने के लिए राहत कार्य जारी है। छह घंटे बाद शाम 4 बजे तक बच्चा सुरक्षित था और वह बाहर से आवाज देने पर जवाब भी दे रहा था।

जालोर। जालोर जिले के सांचौर क्षेत्र के लाछड़ी गांव में खुले बोरवेल में गिरे चार वर्षीय बालक को बचाने के लिए राहत कार्य जारी है। छह घंटे बाद शाम 4 बजे तक बच्चा सुरक्षित था और वह बाहर से आवाज देने पर जवाब भी दे रहा था। मामले के अनुसार बुधवार को ही नगाराम देवासी के कृषि कुएं पर बोलवेल खोदा गया था और उसके मुहाने को तगारी को ढका गया था।

सवेरे बच्चे खेल रहे थे। जिसमें नगाराम का 4 वर्षीय बालक अनिल भी शामिल था। बच्चों ने तगारी को हटा दिया। दूर से उसके परिजन पूरे घटनाक्रम को देख रहे थे और वे कुछ कर पाते उससे पहले ही कच्चे बोरवेल में बच्चा गिर गया। बोरवेल की गहराई करीब 90 फीट है।

यह घटनाक्रम सवेरे 10 बजे का है। इस पर परिवार के हाथ पांव फूल गए और पुलिस प्रशासन को अवगत करवाया गया। पुलिस टीम और बचाव दल ने राहत के प्रयास शुरू किए। स्थानीय स्तर पर ग्रामीणों और प्रशासन ने दिनभर बच्चे का मनोबल बढ़ाया। दूसरी तरफ से गुजरात से विशेषज्ञ टीम रवाना हुई है, जो शाम को पहुंचने वाली है। उसके बाद राहत कार्य को बड़े स्तर पर शुरू किया जाएगा।

इधर दिनभर बच्चे को नली के माध्यम से ऑक्सीजन और बोतले में पानी भी पहुंचाया गया। इधर, कुछेक बिस्कुट भी बच्चो को खाने के लिए पहुंचाए गए है। रस्से के माध्यम से कैमरा भेजकर बच्चे की बोरवेल की लॉकेशन को भी देखा गया, जिसमें बच्चा सुरक्षित है। अभी बोरवेल कच्चा है, इसलिए इसमें से बच्चे को सुक्षित रूप से बाहर निकालना किसी चुनौती से कम नहीं होगा। अलबत्ता पूरा प्रशासन और ग्रामीण बच्चे की सुरक्षित बाहर निकलने की दुआएं कर रहे हैं।