जनता कर्फ्यू से पहले पुलिस ने चलाया जागरूकता अभियान, अफवाह फैलाने वालों पर सख्त नजरें

|

Updated: 02 May 2020, 07:35 PM IST

जनता कर्फ्यू से पहले व्यापारियों से मिलकर उन्होंने जागरूकता अभियान चलाया है। इससे रविवार को होने वाले दुकानों को एक दिन पहले से बंद करवा दिया गया है। वहीं पुलिस ने कोरोना वायरस को लेकर अफवाह फैलाने वालों पर सख्त निगरानी शुरू कर दी

जयपुर पुलिस जनता कर्फ्यू से पहले व्यापारियों से मिलकर उन्होंने जागरूकता अभियान चलाया है। इससे रविवार को होने वाले दुकानों को एक दिन पहले से बंद करवा दिया गया है। वहीं पुलिस ने कोरोना वायरस को लेकर अफवाह फैलाने वालों पर सख्त निगरानी शुरू कर दी है।

जयपुर पुलिस कमिश्नर का कहना है कि कोरोना को लेकर सोशल मीडिया पर किसी भी तरह की अफवाह कोई फैलाता है तो इस बारे में तुंरत पलिस को सूचना दें। किसी भी तरह के मैसेज को एक जगह से दूसरे जगह पर बिना सोचे समझे शेयर नहीं करें। ऐसा कोई करता है तो उसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को या नजदीकी थाने में उसके बारे में बताए। जिससे अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जा सके।
जागरूकता फैला बाजार कराए बंद
जयपुर शहर में समस्त थाना पुलिस मोबाइल एवं चेतक के लाउड हेलर या माइक से लगातार इलाकों में जानलेवा कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए निर्देश प्रसारित किए जा रहे है। लोगों को जागरूक करने के साथ ही शनिवार को पुलिस के कई क्षेत्रों में दुकाने व प्रतिष्ठिïन बंद करवाए। पुलिस का कहना है कि दुकानें खुली होने से लोगों की भीड़ बढ़ती है इससे संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ रहा है। 22 मार्च को जनता क र्य के लिए भी संदेश दिया गया कि व्यापारी अपने प्रतिष्ठïान बंद रखे और जब तक जरूरत नहीं हो वह दुकानें नहीं खोले। किसी भी तरह से भीड़ को एक जगह पर जमा नहीं होने दें। इसे लेकर यातायात पुलिस की टीमें भी काम कर रही हैं।
अपराधों का गिरा ग्राफ
कोरोना वायरस के चलते अपराधियों में भी महामारी का खौफ बना हुआ है। जिसके चलते शहर में पिछले कुछ दिनों में अपराध का ग्राफ तेजी से गिरा है। जिसके चलते चोरी, लूट, डकैती, जानलेवा हमला व हत्या के प्रकरण भी कम हुए है। वहीं, दूसरी ओर कोरोना वायरस से अवेयर कर आमजनों के घर से नहीं निकले व लोगों के इधर-उधर घूमने नहीं जाने के कारण यातायात दबाव भी कम हुआ है। जिसके चलते सड़क दुर्घटनाएं भी कम हो रही है।