जयपुराइट्स पर चला सूफी, बॉलीवुड और राजस्थानी फोक म्यूजिक का जादू, देखें तस्वीरें

|

Published: 07 Mar 2021, 09:55 PM IST

सूफी, फोक और बॉलीवुड म्यूजिक के साथ वेस्टर्न म्यूजिक का जादू जयपुराइट्स पर सिर चढ़कर बोलने लगा। संगीत कलाकारों ने जोश और उत्साह के साथ अपनी प्रस्तुति दी और इन प्रस्तुतियों पर हर उम्र के लोग थिरकते नजर आए।

जयपुर। सूफी, फोक और बॉलीवुड म्यूजिक के साथ वेस्टर्न म्यूजिक का जादू जयपुराइट्स पर सिर चढ़कर बोलने लगा। संगीत कलाकारों ने जोश और उत्साह के साथ अपनी प्रस्तुति दी और इन प्रस्तुतियों पर हर उम्र के लोग थिरकते नजर आए। मौका था, राजस्थान पत्रिका के 66वें स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित 'पत्रिका म्यूजिक रिपब्लिक' रॉक बैंड शो का। पत्रिका गेट पर आयोजित हुए कार्यक्रम में प्रदेश के नामचीन बैंड्स और कलाकारों ने प्रस्तुति देते हुए माहौल को संगीतमय बनाया। कलाकारों की एक-एक प्रस्तुति लोगों को सीधे कनेक्ट करती नजर आई। कलाकारों ने राजस्थानी म्यूजिक को भी रॉक अंदाज में पेश करते हुए भरपूर तालियां बटोरी।

'गिटारा' बैंड से शुरुआत
बैंड शो की शुरुआत 'गिटारा द बैंड' से हुई, उन्होंने 'कसरिया बालम' को अनोखे अंदाज में पेश कर शुरुआती माहौल बनाया। इसके बाद राजस्थानी सॉन्ग 'चौधरी' पर जयपुराइट्स को थिरकने के लिए कनेक्ट किया। इसके बाद 'साधो रे ये मुर्दों का गांव', 'यारी', 'मायरी' और 'दीवाना' जैसे सॉन्ग्स को पेश किया। बैंड के सिंगर अविनाश, गिटारिस्ट मोहित और ऑक्टोपेड पर नीतेश ने बखूबी साथ निभाया। कार्यक्रम में सारेगामापा फेम मिताली वर्मा ने प्रस्तुति दी। इनके साथ की-बोर्ड पर दीपेश साथ रहे। उन्होंने बॉलीवुड सॉन्ग्स का मैशअप पेश किया, इसमें 'दिल को करार आया', 'हमनवा', 'सावन आया है', 'दिल में हो तुम', 'माही वे', 'सांस में तेरी', 'तुम ही हो' और 'गुलाबी आंखें' जैसे गाने शामिल रहे।

माहौल को बनाया सूफियाना

कार्यक्रम में इरशाद कावा प्रोजेक्ट म्यूजिक बैंड के कलाकारों ने एक से बढ़कर एक सूफी गीतों को पेश कर माहौल में सूफियाना रंग भर दिया। उन्होंने 'छाप तिलक सब छीन ली' से शुरुआत करते हुए 'दमादम मस्त कलंदर' और 'आफरीन' सुनाते हुए जमकर तालियां बटोरी। उन्होंने ऑडियंस की फरमाईश पर 'सैंया' सुनाया। सिंगर इरशाद अली कावा केसाथ ऑक्टोपेड पर सदफ अली और की-बोर्ड पर अयान अली नजर आए। कार्यक्रम में 'एलिक्जीर रोर' बैंड ने दमदार परफॉर्मेंस दी। उन्होंने वेस्टर्न म्यूजिक का तड़का लगाते हुए 'गार्डियन डाउन', 'लेफ्ट टू राइट' सॉन्ग सुनाए। सिंगर रवनीत सिंह के साथ गिटार पर तरुण आदित्य सिंह, जिवेश कुमार, ड्रम पर रामपुरण जय शर्मा और बेस गिटार पर गौरव पांड्ेय नजर आए।

फोक का रॉक स्टाइल
स्टेज पर जब ऊर्जा बैंड के कलाकार आए तो उन्होंने राजस्थानी फोक म्यूजिक को रॉक स्टाइल में सुनाकर सभी दाद पाई। कलाकारों ने सबसे पहले बॉलीवुड मेशअप सुनाया, इसमें 'किस्मतÓ, 'कलंक' जैसे गीत सुनाए। राजस्थानी गीतों को भी मेशअप अंदाज में पेश करते हुए रॉक म्यूजिक का जादू बिखेरा। कलाकारों ने देशभक्ति गीतों को पेश करते हुए माहौल में देशप्रेम का रंग भर दिया। सिंगर अभिनव के साथ आशिष, की-बोर्ड पर फ्रेसियस, ड्रम पर तोशिफ, बेस गिटार पर अभिराव और सुगंधा नजर आए।

इंडिपेंडेंट म्यूजिक का तिलिस्म

कार्यक्रम में ट्रूप ऑफ मैलोडी बैंड ने अपने इंडिपेंडेंट सॉन्ग्स को सुनाया। शुरुआत उन्होंने बॉलीवुड मेशअप 'किल दिल', 'बदन पे सितारे' जैसे गानों को सुनाया। उन्होंने अपना ऑरिजनल सॉन्ग 'बादलों को' सुनाकर श्रोताओं से तालियां बटोरी। आखिर में 'वन स्टेप क्लोजर' सॉन्ग सुनाया। सिंगर आदित्य राज शर्मा के साथ की-बोर्ड पर अंकुश शर्मा, ड्रम पर अपूर्व और गिटार पर तनिष्क पालीवाल ने प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में 'द रीवर ५५' बैंड ने शूरवीरों को ट्रिब्यूट देते हुए 'बलिदानी राजस्थान' गीत सुनाया। इसके बाद फोक गीत 'बाईसा रा बीरा' सुनाया। सिंगर शाकिब, नीतिन और रीमा के साथ गिटार पर सुनील, ड्रम पर देवांग, ढोलक पर तेजकरण , की-बोर्ड पर आशीष और ऑक्टोपेड पर दीपक शर्मा ने प्रस्तुति दी।

गानों से मां को किया याद

कार्यक्रम में सोलो सिंगर वैभव शर्मा ने प्रस्तुति दी। उन्होंने बॉलीवुड गानों के जरिए मां को याद किया और स्पेशल ट्रिब्यूट दिया। उन्होंने 'मिले हो तुम हम को', 'मेरा नाम तू', 'तेरे बिन' गाने सुनाते हुए मां के प्रति अपने प्रेम को समझाया। मंच पर टीचर और स्टूडेंट्स की जोड़ी भी खास अंदाज में नजर आई। अमेटी यूनिवर्सिटी के टीचर श्रीमंतो मजूमदार ने सितार और रजत शर्मा ने बांसुरी पर प्रस्तुति देते हुए तालिया बटोरी। राग हंसध्वनी में उन्होंने कृष थीम पर म्यूजिक पेश किया। उन्होंने सितार और बांसुरी के जरिए महात्मा गांधी के प्रिय भजन 'वैष्णव जन' को सुनाया।

कावा ब्रास बैंड का जलवा
आखिर में जयपुर के प्रसिद्ध कावा ब्रास बैंड के कलाकारों ने अपनी असरदार उपस्थित का अहसास करवाया। उन्होंने फिल्मी धुनों के साथ राजस्थानी गीतों को पेश किया। कार्यक्रम में ब्रास बैंड की प्रस्तुति को एक-एक दर्शक ने एन्जॉय किया। यह बैंड दुनियाभर के कई देशों में प्रस्तुति दे चुका है। इसमें हमीद खान, उस्मान अली, सलीम, हफीज, फारुख और जावेद ने प्रस्तुति दी।

सवालों के जवाब पर मिले पुरस्कार
कार्यक्रम के दौरान आरजे सूफी ने जयपुराइट्स से इंटरेक्ट करते हुए कई सवाल पूछे, सही जवाब देने वाले लोगों को पुरस्कार दिया गया। इस कार्यक्रम का सोशल मीडिया पर उत्साह दिखाई दिया। लोगों ने इवेंट से जुड़े फोटोज को इंस्टाग्राम, फेसबुक और ट्विटर पर शेयर किया और पत्रिका को टैग किया।