बेमौसम बरसात से किसानों की खड़ी फसल खराब, नेता प्रतिपक्ष ने की यह अपील

|

Published: 26 Mar 2020, 03:27 PM IST

वैश्विक महामारी कोरोना से हर कोई जूझता नजर आ रहा है। अब बेमौसम बारिश ने किसानों के चेहरों पर मायूसी ला दी है। कई जगहों पर किसानों की पकी पकाई फसल चौपट हो गई है। ऐसे में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने किसानों को राहत पैकेज देने की मांग की है।

जयपुर।

वैश्विक महामारी कोरोना से हर कोई जूझता नजर आ रहा है। अब बेमौसम बारिश ने किसानों के चेहरों पर मायूसी ला दी है। कई जगहों पर किसानों की पकी पकाई फसल चौपट हो गई है। ऐसे में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने किसानों को राहत पैकेज देने की मांग की है।

कटारिया ने कहा कि बेमौसम बरसात के चलते किसानों की पकी पकाई फसल नष्ट हो रही है। उन्होंने सरकार से आग्रह किया है कि वह किसानों की फसलों के मामले में भी ध्यान दें और उनके नुकसान की भरपाई की जाए। कटारिया ने कोरोना को लेकर कहा कि इस संकट की घड़ी में हर कोई मदद के लिए आगे आ रहा है।

भाजपा के कई विधायकों और नेताओं ने खाद्य सामग्री के पैकेट तैयार करवाए हैं जिन्हें जरूरतमंद लोगों को पहुंचाया जा रहा है। कटारिया ने कहा कि उदयपुर में भी हेल्प लाइन के जरिए जो भी शिकायतें मिल रही है, खासकर खाने से संंबंधित तो जरुरतमंद लोगों को खाने पीने की साम्रगी दी जा रही है। इस संकट की घड़ी में केवल सरकार नहीं बल्कि हर उस शख्स की जिम्मेदारी बनती है जो आर्थिक रूप से सक्षम है। ऐसे व्यक्तियों को दूसरों की मदद करनी चाहिए।

राहत पैकेज से झलकी संवेदनशीलता

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने केंद्र की मोदी सरकार की ओर से दिए गए एक लाख 70 हजार करोड़ के राहत पैकेज को लेकर कहा कि केंद्र सरकार संवेदनशीलता के साथ काम कर रही है। जिसका नजारा साफ तौर पर दिखता है कि मोदी सरकार ने जरूरतमंदों के लिए इतनी बड़ी राशि की घोषणा की है। इस आर्थिक पैकेज से वे सभी लोग मजबूत होंगे जो रोज कमाकर खाते थे।