राजस्थान में 9 लाख से अधिक लोगों की जांच, फिर भी 17 जिलों में 2 फीसदी भी टेस्ट नहीं

|

Updated: 06 Jul 2020, 09:05 AM IST

राजस्थान में 9 लाख से अधिक लोगों की कोरोना वायरस की जांच हो चुकी है लेकिन फिर भी 17 जिलें ऐसे है जिनमे जांच प्रतिशत बहुत कम है।

जयपुर । प्रदेशभर में 9 लाख से अधिक लोगों की कोरोना वायरस की जांच हो चुकी है, लेकिन अभी भी कई जिलें ऐसे है जिनमे कोरोना जांच की रफ्तार बढ़ाना जरूरी है। पिछले कुछ दिनों से अलवर, भरतपुर, प्रतापगढ़, धौलपुर सहित अन्य जिलों में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ी है। लेकिन इन जिलों में जांच प्रतिशत अभी भी बहुत कम है। बता दें राज्य के 17 जिलों में अभी भी कुल जांच में से 2 प्रतिशत से कम लोगों की जांच हुई है। राजधानी जयपुर और जोधपुर को छोड़ अन्य जिलों में अभी भी जांच की रफ्तार कम है ।

जिला- जांच प्रतिशत
अजमेर- 3 %
अलवर-2.23%
बांसवाड़ा-0.54 %
बारां-0.63%
बाड़मेर-1.87
भरतपुर-2.91%
भीलवाड़ा-3.83 %
बीकानेर-3.54 %
बूंदी-0.57%
चितौड़गढ़-1.32 %
चूरू-1.33 %
दौसा-1.35 %
धौलपुर-1.70 %
डूंगरपुर-2.60%
गंगंनागर-0.76 %
हनुमानगढ़-1.01 %
जयपुर-13.43 %
जैसलमेर-1.82 %
जालोर- 3.67 %
झालावाड़-2. 87%
झुंझुनूं-1.81 %
जोधपुर-17.30 %
करौली-0.74 %
कोटा-6.73%
नागौर-2.86 %
पाली- 4.09
प्रतापगढ़-0.49
राजसमंद-1.14
सवाईमाधोपुर-0.86
सीकर-4.27
सिरोही-2.69
टोंक1.42
उदयपुर- 4.11

इधर राजस्थान में जुलाई के पहले सप्ताह के पांच दिनों में कोरोना के सारे रिकार्ड टूट गए। राजस्थान में पहली बार एक दिन में 632 नए कोरोना मरीज आए है। एक साथ इतने मरीज आने से प्रशासनिक अमले में काफी हलचल है। कोरोना से रविवार को 9 मौत भी दर्ज की गई है। प्रतापगढ़, बीकानेर, जोधपुर, अलवर, जयपुर में कोरोना पॉजिटिव के ज्यादा मरीज आए। प्रवासियों में भी पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।