कोविड-19 में सरकार और लोगों की मदद कर रहा है एक्सिस बैंक

|

Updated: 30 May 2020, 02:00 PM IST

नई दिल्ली। देश के विभिन्न राज्यों में कोविड-19 ( Kovid-19 ) महामारी ( epidemic ) के फैलने से उपजी स्थितियों के बीच राष्ट्र एक बड़ी चुनौती का सामना कर रहा है। इन कोशिशों और चुनौतीपूर्ण समय ( challenging times ) में देश के तीसरे सबसे बड़े निजी बैंक एक्सिस बैंक ( Axis Bank ) ने राजस्थान सरकार ( Government of Rajasthan ) और लोगों को हर संभव बैंकिंग सहायता और सेवाएं ( banking support and services ) प्रदान करने का पूरा समर्थन दिया है। एक्सिस बैंक की राज्य में 165 और जयपुर शहर में 29 शाखाएं हैं। ग्राह

एक्सिस बैंक ने राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार कुछ ग्राहक अनुकूल उपाय भी किए हैं। बैंक ने विभिन्न केंद्रों पर 27 कोविड- 19 राहत खाते खोले है, ताकि दानदाताओं से राहत राशि एकत्र करने में स्थानीय अधिकारियों की मदद की जा सके। इस राशि का उपयोग बड़ी संख्या में लोगों को भोजन के पैकेट और सुरक्षा उपकरण प्रदान करने के लिए किया जाएगा।
एक्सिस बैंक को मुख्यमंत्री राहत कोष कोविड- 19 शमन निधि के लिए धन इक_ा करने का आदेश भी प्राप्त हुआ है, जिसके माध्यम से आयकर अधिनियम की धारा 80 जी के तहत राज्य सरकार के कोष में दुनियाभर से योगदान किया जा सकता है। बैंक ने इस खाते में सुचारू और परेशानी मुक्त लेनदेन सुनिश्चित करने के लिए सभी भुगतान मोड सक्षम कर दिए हैं। राजस्थान राज्य सहकारी उपभोक्ता महासंघ (राजफैड) ने किसानों को भुगतान करने के लिए एक्सिस बैंक को भी बैंकों के अपने पैनल में शामिल किया है। इस पहल के माध्यम से, राजस्थान सरकार गेहूं, चना, सरसों आदि जैसे कृषि उत्पादों की खरीद करेगी और बैंक की ऑनलाइन सुविधाओं के माध्यम से भुगतान करेगी। इस पहल से लगभग 10,000 किसान लाभान्वित होंगे और अपेक्षित लाभ लगभग 200 करोड़ रुपए का होगा।
बैंक ने 30 जून 2020 तक सभी बैंक एटीएम लेनदेन (वित्तीय और गैर-वित्तीय) में आईएमपीएस लेनदेन के लिए शुल्क माफ कर दिया है। एक्सिस बैंक अपने मोबाइल एप के माध्यम से विभिन्न डिजिटल सेवाएं जैसे भुगतान, फंड ट्रांसफर, बिल भुगतान आदि भी प्रदान करता है, ताकि ग्राहक अपने घर की सुविधा से बैंकिंग लेनदेन कर सकें। इसने आरबीआई के निर्देशानुसार उधारकर्ताओं को ईएमआई के स्थगित होने संबंधी लाभों को भी बढ़ाया है। एक्सिस बैंक ने राजस्थान में जयपुर के सवाई मान सिंह अस्पताल को लगभग 121 पीपीई किट और सीकर जिले के जिला कलेक्टर को 100 पीपीई किट प्रदान किए हैं।