जर्दे के लिए 100 रूपए मांगे, नहीं दिए तो महिला के साथ किया ऐसा काम, निशान छुपाने के लिए नाखून भी काट लिए

|

Updated: 26 May 2020, 10:30 AM IST

बगरू के धानक्या गांव में 75 वर्षीय वृद्धा प्रभाती देवी की हत्या गांव के ही व्यक्ति ने की थी। लॉकडाउन से बेरोजगार हुए व्यक्ति ने लूट के इरादे से यह षड्यंत्र रचा। रविवार दोपहर को वह वृद्धा के यहां गया और जर्दे के लिए सौ रुपए मांगे। वृद्धा ने मना किया तो चाकू से उसका गला रेतकर हत्या कर दी...

जयपुर। बगरू के धानक्या गांव में 75 वर्षीय वृद्धा प्रभाती देवी की हत्या गांव के ही व्यक्ति ने की थी। लॉकडाउन से बेरोजगार हुए व्यक्ति ने लूट के इरादे से यह षड्यंत्र रचा। रविवार दोपहर को वह वृद्धा के यहां गया और जर्दे के लिए सौ रुपए मांगे। वृद्धा ने मना किया तो चाकू से उसका गला रेतकर हत्या कर दी। हत्या के बाद महिला के शरीर से गहने उतारे। कड़ों के लिए उसके पांव भी काट दिए। गहनों के साथ कमरे में रखे चांदी के सिक्के भी ले गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर गहने व वारदात में प्रयुक्त हथियार बरामद कर लिए हैं।

पुलिस उपायुक्त पश्चिम कावेंद्र सागर ने बताया कि गिरफ्तार लक्ष्मीनारायण उर्फ लक्ष्मण 45 का घर घटना स्थल से 5 मीटर दूर ही है। हत्या का पता चलने के बाद पुलिस ने आस-पड़ोस के लोगों से पूछताछ की। इसी दौरान एक पड़ोसी युवती ने बताया कि लक्ष्मण पिछले कई दिनों से यहां आ रहा है। रविवार दोपहर भी उसे देखा था। इस पर पुलिस ने रात को ही उसे पकड़ लिया

हत्या के इरादे से गया था
लक्ष्मण की आर्थिक स्थिति खराब है। पनीर बेचकर खर्च चलाता था, लेकिन लॉकडाउन में यह धंधा भी बंद हो गया। पहले से कर्जा भी था। जर्दा खाने का शौक था, लेकिन अधिक कीमत के कारण खरीद नहीं पा रहा था। वृद्धा के अकेले रहने का उसे अंदाजा था। वारदात से पहले जर्दे के लिए उसने 100 रूपए मांगे थे। लेकिन वृद्धा ने मना कर दिया। इस पर उसने वृद्धा को मौत के घाट उतार दिया। हत्या के बाद आरोपी अपने घर गया और खून से सने कपड़े उतार दूसरे पहन लिए। वहां से पोटली में जेवरात, कपड़े व हथियार छुपाकर ले गया। किसी बाइक सवार से लिफ्ट लेकर गया और सुनसान जगह पर जमीन में सामान छुपा कर वापस आ गया। खून का कोई निशान भी ना बचे इसके लिए अपने नाखून भी काट लिए। वारदात के लिए चाकू, संडासी, फूंकनी, लोहे का सरिया, रस्सी एवं तेल लेकर गया था। उसने तेल लगाकर वृद्धा के कड़े निकालने की कोशिश की थी।