सूखा बीतेगा सावन: सूरज के तेवर से चुभ रही धूप, उमस ने किया हलाकान

|

Published: 28 Jul 2020, 11:43 AM IST

सूखा बीतेगा सावन: कुछ इलाकों में बूंदाबांदी

 

sawan month 2020,sawan 2020,sawan 2020 ,Sawan Month in Markandey Mahadev,sawan month,mp sawan month,mp sawan month,First Monday Sawan Month,sawan month. sawan mahina in hindu,

जबलपुर। शहर में दो दिन से आंखों ततेर रहे सूरज के तेवर सोमवार को भी बनें रहे। सुबह से ही चुभने वाली धूप और गर्मी रही। दो दिन से लगातार तपिश से सोमवार को स्थानीय बादल सक्रिय हुए। दोपहर बाद आसमान में अचानक बादल छाए। काले घने मेघ ऐसे मंडराए कि झमाझम बारिश होगी। लेकिन पूरे शहर को घेरने वाले काले बादलों की बूंदाबांदी के छींटे कुछ इलाकें पर ही पड़ें। ज्यादातर क्षेत्रों में सूखा रहा। जिन क्षेत्रों में काले बादलों की मेहरबानी हुई वहां पर भी कुछ ही देर में बूंदबांदी हो गई। अधारताल सहित कुछ क्षेत्रों में छिटपुट बारिश के बाद काले बादल तेजी से गायब हो गए। इससे कई दिन से पानी के लिए तरस रहा शहर तर नहीं हुआ। उल्टा बारिश की छिटपुट बूंदें पडऩे से शाम तक उमस और बढ़ गई। चिपचिपी गर्मी ने बेचैन किया।

मौसम विज्ञान केन्द्र के अनुसार रविवार को अधिकतम तापमान 34.4 डिग्री और न्यूनतम तापमान 24.6 डिग्री रेकॉर्ड किया गया है। पारे में उछाल का क्रम सोमवार को भी जारी रहा। सुबह से धूप तेज होने से न्यूनतम तापमान में करी डेढ़ डिग्री सेल्सियस की वृद्धि हुई। सामान्य से तापमान पांच डिग्री तक ज्यादा हो गया। सोमवार को अधिकतम तापमान 34.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। यह समाान्य से पांच डिग्री ज्यादा रहा। न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सी रहा। यह भी सामान्य से 2 डिग्री ज्यादा बना रहा। आद्र्रता सुबह के समय 74 प्रतिशत और शाम को 82 प्रतिशत था।

औसत से 40 प्रतिशत कम बारिश : शहर में सोमवार को दोपहर बाद 7.2 मिमी बारिश रेकॉर्ड की गई है। इसके साथ ही सीजन में कुल बारिश का आंकड़ा बढकऱ 262.7 मिमी हो गया है। लेकिन सावन के महीने में इस बार झड़ी नहीं लगने से बारिश औसत से भी कम हुई है। पिछले वर्ष की 27 जुलाई तक शहर में 418.4 मिमी बारिश रेकॉर्ड हुई थी। इसके मुकाबले इस साल बारिश करीब चालीस प्रतिशत कम हुई है।