राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बोले- पूर्वाग्रह से मुक्त रहें न्यायाधीश, देश को आपसे बहुत अपेक्षाएं, देखें Updates

|

Updated: 06 Mar 2021, 12:29 PM IST

दो दिन जबलपुर में रहेंगे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, न्यायाधीशों के कार्यक्रम में हुए शामिल, नर्मदा की आरती करेंगे...।

जबलपुर। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शनिवार को सुबह जबलपुर पहुंचे। डुमना एयरपोर्ट पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और शिवराज सिंह चौहान ने उनकी अगवानी की। उन्हें पुष्पगुच्छ दिया। उनके साथ अन्य अधिकारियों ने भी उनकी भव्य अगवानी की। राष्ट्रपति का यह दो दिवसीय दौरा है और वे शाम को नर्मदा के घाट पर पहुंचकर आरती में भी शामिल हो रहे हैं। यह पहला मौका है जब कोई राष्ट्रपति मां नर्मदा की आरती में शामिल हो रहा है।

Live Update

12.20 pm

ज्यूडिशियल एकेडेमिक डायरेक्टर्स रिट्रीट में बोले राष्ट्रपति

न्याय व्यवस्था में टेक्नालाजी का इस्तेमाल हो रहा है।
नर्मदा की पावन नगरी में आकर बहुत खुशी हुई।
न्यायिक अकादमियों की महत्वपूर्ण भूमिका है।
देश को न्यायापिलाका से बहुत अपेक्षाएं हैं।
न्यायधीशों को पूर्वाग्रहों से मुक्त रहना चाहिए।


12.05 pm
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संबोधन शुरू।

11.54 AM

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का संबोधन शुरू।

11.50 AM

भारत के मुख्य न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे ने कहा कि मैंने भारत की महान न्याय शैली को महसूस किया है। इससे पहलो बोबडे ने भी अपने संबोधन से पहले मास्क निकालने की अनुमति मांगी।

11.40 AM

लोगों को जल्द और सस्ता मिले न्याय

चौहान ने कहा कि मैं भारत की न्याय पालिका पर दुनिया को विश्वास है। एक बार आम नागरिक प्रशासन पर भरोसा न करे, सरकार पर भरोसा न करे, लेकिन न्याय पालिका पर उसे भरोसा होता है। इसलिए न्याय लोगों को जल्द मिले इस पर भी विचार हमें करना चाहिए। लोगों को न्याय सस्ता मिले, इस पर भी विचार करना चाहिए।

11.35 AM

चौहान ने कहा कि जब किसी को न्याय नहीं मिलता है तो वो न्यायपालिका की शरण में जाता है। दुनिया में सबसे बड़ा सुख है, वो आत्मा का सुख है, और वो न्याय से मिलता है। न्याय पालिका की अपनी प्रतिष्ठा है।

11.30 AM

मुख्यमंत्री चौहान ने मास्क निकालकर संबोधन शुरू करने की इजाजत राष्ट्रपति से मांगी।

11.26 AM

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का संबोधन।

11.00 AM

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दीप प्रज्वलित कर ज्यूडिशियल एकेडमिक डायरेक्टर्स रिट्रीट का शुभारंभ किया।

10.50 am

9.40 पर लैंड हुआ राष्ट्रपति का विमान

राष्ट्रपति का विमान डुमना एयरपोर्ट पर 9.40 बजे पर लैंड हुआ। वहां राज्यपाल आनंदीबेन पटेल पहले ही पहुंच गई थी। इनके अलावा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी पहुंच गए थे। इस दौरान आयुष एवं जल संसाधन राज्यमंत्री रामकिशोर कांवरे, विधायक अशोक रोहाणी भी मौजूद थे। वहीं संभागायुक्त बी चन्द्रशेखर, आईजी भगवत सिंह चौहान, कलेक्टर कर्मवीर शर्मा और एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा भी डुमना विमानतल पर मौजूद थे। राष्ट्रपति की अगवानी के बाद वे सीधे सर्किट हाउस के लिए रवाना हो गए। इसके बाद 10.50 बजे मानस भवन में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करेंगे।

 

शिवराज ने बादाम का पौधा रौपा

इससे पहले, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार को 8.45 पर जबलपुर पहुंच गए थे। इसी दौरान उन्होंने डुमना एयरपोर्ट पर पहुंचते ही बादाम का पौधा रोपा। मुख्यमंत्री ने पिछले कुछ दिनों से हर दिन एक पौथा लगाने का संकल्प लिया है। उन्होंने सभी से ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाने की अपील भी की है।

 

 

एक नजर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राष्ट्रपति के साथ सभी कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। वहीं शाम चार बजे वे नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में शहीद स्मारक गोलाबाजार में कार्यशाला का उद्घाटन भी करेंगे। आज भी शाम को नर्मदा महाआरती में शामिल होंगे।

 

राष्ट्रपति बने रामनाथ कोविंद का मां पीतांबरा की नगरी से है ये कनेक्शन