तू मेरा नहीं, तो किसी और का भी नहीं, करके बदनाम शादी होने नहीं दूंगी

|

Published: 11 Sep 2020, 08:48 PM IST

जबलपुर जिले की एक युवती ने युवक की महिला सहकर्मी का फेक अकाउंट बनाकर आपत्तिजनक पोस्ट

 

तू मेरा नहीं, तो किसी और का भी नहीं, करके बदनाम शादी होने नहीं दूंगी

जबलपुर। सोशल मीडिया दुरुपयोग साइबर अपराधी ही नहीं कई एंगल से किया जाने लगा है। इकतरफा प्यार जबलपुर जिले में रहने वाली युवती ने युवक की महिला सहकर्मी का फेक सोशल अकाउंट बनाया और दोनों के सम्बंधों को लेकर आपत्तिजनक पोस्ट करने लगी। वह उनके फोटो को मार्फ कर युवक के दोस्तों और जानने वालों को टैग करने लगी। फेसबुक अकाउंट की जानकारी मिलने पर युवक और उसकी महिला सहकर्मी ने बीते दिनों स्टेट साइबर सेल में मामले की शिकायत दर्ज कराई थी। गुरुवार को स्टेट साइबर सेल ने आरोपी युवती को गिरफ्तार कर लिया। एसपी अंकित शुक्ला ने बताया कि युवक और उसकी सहकर्मी युवती ने शिकायत दर्ज कराई कि उसकी फोटो का प्रयोग कर किसी ने फेसबुक अकाउंट खोला है। इसके माध्यम से आपत्तिजनक पोस्ट की जा रही है। एसपी ने फेक अकाउंट बंद कराते हुए तकनीकी जांच शुरू कराई। फेसबुक आईडी के यूआरएल और आईपी लॉग्स की मदद से पता चला कि फेक अकाउंट बनाने वाली कटनी निवासी 23 वर्षीय युवती है।

निरीक्षक हरिओम दीक्षित के मुताबिक आरोपी युवती ने गिरफ्तारी के बाद गुरुवार को खुलासा किया कि वह पीडि़त युवती के ऑफिस में काम करने वाले उसके सहकर्मी युवक से प्यारी करती थी। उससे शादी करना चाहती थी। युवक ने उसका प्रस्ताव अस्वीकार कर दिया था। उससे बदला लेने के लिए उसकी कम्पनी में काम करने वाली महिला के नाम व फोटो का प्रयोग कर फेक आईडी बनाकर उसे बदनाम करना चाहती थी। सोशल मीडिया प्रोफाइल को लॉक करके रखें। टू फैक्टर वेरिफिकेशन ऑन रखें। निजी फोटोज को सभी के साथ शेयर न करें। अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर सही जन्मतिथि दर्ज न करें। जानकारों का यह भी कहना है कि लोग सोशल मीडिया का इस्तेमाल बेहद लापरवाही से करते हैं। कुछ ऐसे होते हैं, जिन्हें जानकारी नहीं होती, फिर भी अक्सर सोशल मीडिया पर सर्चिंग करते रहते हैं। इसका फायद शातिर लोग उठा लेते हैं।