MP Higher education में बड़े बदलाव की कवायद

|

Published: 15 Jan 2021, 03:04 PM IST

-MP सरकार ने Higher education पाठ्यक्रम संबंधी मांगे प्रस्ताव

जबलपुर. MP Higher education में बड़े बदलाव की कवायद शुरू होने के संकेत मिले हैं। इसकी पहल सरकारी कॉलेजों से हो रही है। सरकार ने कॉलेज प्रशासन से पाठ्यक्रम परिवर्तन संबंधी प्रस्ताव मांग लिए हैं। सरकार के आदेश के क्रम में कॉलेज प्रशासन ने नए-नए पाठ्यक्रम के बाबत अपनी तैयारी तेज कर दी है। कई कॉलेजों ने पाठ्यक्रम की रूप-रेखा तैयार भी कर ली है।

बताया जा रहा है कि सरकारी कॉलेजों में नए पाठ्यक्रम शुरू करने को कहा गया है। इस दिशा में कॉलेजों ने अपने-अपने प्रस्ताव शासन को मंजूरी के लिए भेज भी दिया है। इसमें कैटरिंग, टूरिज्म के अलावा पत्रकारिता के डिग्री और डिप्लोमा कोर्स प्रारंभ करने का प्रस्ताव कॉलेजों ने तैयार किए हैं। क्षेत्रीय अतिरिक्त संचालक उच्च शिक्षा के माध्यम से इसे उच्च शिक्षा विभाग को भेजा गया है।

शासकीय होमसाइंस कॉलेज के प्राचार्य डॉ. अखिलेश अयाजी के अनुसार महाविद्यालय के आहार एवं पोषण विभाग, वस्त्र एवं तंतु विभाग, वनस्पति शास्त्र विभाग एवं प्राणीशास्त्र की तरफ से नए पाठ्यक्रमों का सृजन किया गया है। इसमें बेकरी एंड कनफेक्शनरीज सर्टीफिकेट कोर्स, बेकरी प्रोडक्ट एंड पेस्ट्रीज डिप्लोमा कोर्स, डिप्लोमा कोर्स एपेरियल डिजाइनिंग अंडर क्लाथिंग एंड टेक्सटाइल्स, डिप्लोमा कोर्स एपियरल डिजाइनिंग एंड फैशन डिजाइनिंग, सर्टीफिकेट कोर्स इन मशरूम कल्ट्रीवेशन, सर्टीफिकेट कोर्स वर्मी कंपोस्टिंग पर पाठ्यक्रम शुरू करने का प्रस्ताव बनाया है।

वहीं महाकोशल कॉलेज में पत्रकारिता में डिप्लोमा में कोर्स प्रारंभ करने की तैयारी है। इस संबंध में क्षेत्रीय अतिरिक्त संचालक कार्यालय को प्रस्ताव भेजा गया है। जिस पर शासन को निर्णय लेना है। सभी पाठ्यक्रम पूरी तरह से स्वपोषित है जिसका संचालन विद्यार्थियों की फीस लेकर किया जाएगा।